सिर्फ़ तीन दिन में मुकम्मल की गयी नमाज़- ए- तरावीह तरावीह!

सिर्फ़ तीन दिन में मुकम्मल की गयी नमाज़- ए- तरावीह तरावीह!

मुकद्दस रमजान माह में तरावीह में पहला कलाम पाक मोहल्ला लहसवाड़ा में पूरा हुआ। यहां हाफिज तारीफ हुसैन ने तीन दिन में कुरआन पाक को मुकम्मल किया।

मौलाना सिराजुल इस्लाम के आवास पर शुरू हुई तरावीह की नमाज में कस्बा नूह हरियाणा के हाफिज तारीफ हुसैन ने कुरआन पाक मुकम्मल कराया। इस अवसर पर मौलाना समीउल्लाह ने कहा कि माह-ए-रमजान में पूरे रोजों की तराबीह पढ़ना जरूरी है।

अमर उजाला पर छपी खबर के अनुसार, तीन दिन में भले ही तरावीह में कुरआन मुकम्मल हो गया हो, लेकिन बाकी के रमजान के दिनों में भी तरावीह पढ़ना जरूरी है। उन्होंने मुल्क में अमनो अमान, रहमत की बारिश और आपसी सौहार्द के लिए दुआ कराई।

इस मौके पर डा. उबैद, मौलाना इम्तियाज कासमी, डा. शमशाद, मो. अफजाल, नौशाद कुरैशी, डा. सादिक देवबंदी, हाफिज इनामुल हसन, आसिफ कुरैशी, जीशान, हुसैन अंसारी, फरमान, आसिफ कुरैशी आदि मौजूद रहे।

Top Stories