Sunday , August 19 2018

सिलेंडर बांटने को लेकर हुई जबरदस्त मारपीट, कई कंज्यूमर लौटे

चार दिन के इंतजार के बाद बुध को गैस सिलेंडर लेने के लिए सुबह आठ बजे से ही लोग विक्रांत चौक पर जुटने लगे थे। घंटे-भर बाद उन्हें पता चला कि चर्च रोड वाक़ेय महावीर मंदिर के पास गैस बंटेगी। लोग उधर भागे, पर यहां भी उन्हें डेढ़ घंटे तक इंतज

चार दिन के इंतजार के बाद बुध को गैस सिलेंडर लेने के लिए सुबह आठ बजे से ही लोग विक्रांत चौक पर जुटने लगे थे। घंटे-भर बाद उन्हें पता चला कि चर्च रोड वाक़ेय महावीर मंदिर के पास गैस बंटेगी। लोग उधर भागे, पर यहां भी उन्हें डेढ़ घंटे तक इंतजार करना पड़ा।

दिन के 10.30 बजे पहुंचे गाड़ी से सिलेंडर बंटना शुरू हुआ, तो पहले लेने की हड़बड़ी में सारफीन के दरमियान धक्का-मुक्की होने लगी। क्योंकि सुमति गैस एजेंसी (इंडेन) के गाड़ी में महज़ 135 सिलेंडर ही थे, जबकि तकरीबन 300 सारफीन गैस लेने पहुंचे थे। सारफीन का इल्ज़ाम है कि एजेंसी के मुलाजिम पहले से लाइन में लगे लोगों की बजाय दूसरों को सिलेंडर दे रहे थे। इस बात को लेकर सारफीन और एजेंसी के मुलाज़िम एक दूसरे से भिड़ गए। उनमें हाथापाई होने लगी।

मारपीट में कई सारफीन को चोट भी आई है। मारपीट के बाद भगदड़ मच गई। हंगामे की इत्तिला पर लोअर बाजार थाना इंचार्ज प्रमोद पांडे पहुंचे। उन्होंने किसी तरह लोगों को शांत कराया। इसके बाद पुलिस की निगरानी में सिलेंडर की तक़सीम हुआ। कम सिलेंडर रहने की वजह से आधे से ज्यादा लोगों को बैरंग लौटना पड़ा।

सारफीन का कहना है कि एजेंसी होम डिलीवरी नहीं करती। कभी सिरम टोली, विक्रांत चौक तो कभी महावीर मंदिर के पास सिलेंडर मिलता है। होम डिलीवरी नहीं होने की वजह से उन्हें परेशानी उठानी पड़ रही है। उनका कहना है कि महावीर मंदिर के पास चार महीने बाद गैस बटा जा रहा था।

लोड नहीं आया था

चार दिनों से लोड नहीं आने से दिक्कत हुई। मारपीट की यह पहली वाकिया है। इसकी जांच कराएंगे। जिन्हें सिलेंडर नहीं मिला, उन्हें टेम्पो से डिलीवरी दी गई है।
गीता सिंह, मैनेजर, सुमति गैस

फराहमी में कमी नहीं

लोड नहीं आने की जांच की जाएगी। वैसे फराहमी में परेशानी नहीं है। फिर भी सिलेंडर नहीं मिलने की यक़ीनी तौर से जानकारी ली जाएगी।
उदय कुमार, चीफ एरिया मैनेजर, इंडेन

TOPPOPULARRECENT