सीट बंटवारा: नीतीश कुमार दिल्ली पहुंचे, हो सकता है ऐलान!

सीट बंटवारा: नीतीश कुमार दिल्ली पहुंचे, हो सकता है ऐलान!
Click for full image
Patna: Bihar Chief Minister Nitish Kumar addressing a press conference in Patna on Monday. PTI Photo (PTI7_31_2017_000150A)

भले ही लोकसभा चुनाव अगले साल होने हैं लेकिन तमाम पार्टियां अभी से ही इसकी तैयारी में जुटी है। तमाम बड़ी पार्टियां अपने-अपने गठबंधन को मजबूत करने और सीटों के बटवारे पर मंथन कर रही है।

सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक इसी कड़ी में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर और पार्टी के वरिष्ठ नेता राजीव रंजन उर्फ ललन के साथ दिल्ली में हैं।

बिहार के उप मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता सुशील मोदी भी दिल्ली पहुंचने वाले हैं। बताया जा रहा है कि आज नीतीश कुमार की बीजेपी के बड़े नेताओं से मुलाकात होगी और बिहार एनडीए में सीट बंटवारे को अंतिम रूप दिया जा सकता है।

इससे पहले खबर आई थी कि बिहार में सीट बंटवारों के लेकर एनडीए में आम सहमति बन गई है और जल्द ही इसका अधिकारिक ऐलान किया जाएगा।

सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक बीजेपी 17 सीटों पर चुनाव लड़ सकती है। जेडीयू 16 सीटों पर उम्मीदवार उतार सकती है। एलजेपी को 5 सीटें मिल सकती हैं और आरएलएसपी को 2 सीटों पर उम्मीदवार उतारने का मौका मिल सकता है।

वहीं साल 2014 के पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने बिहार की 30 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे। इसके अलावा एलजेपी ने 7 और आरएसएलपी ने 3 सीटों पर चुनाव लड़ा था।

जिसमें बीजेपी ने 22, एलेजेपी ने 6 और आरएसएलपी ने 3 सीटों पर जीत दर्ज की थी। हालांकि लोकसभा 2019 के चुनाव के लिए सीटों के बंटवारे का अभी आधिकारिक तौर पर ऐलान होना बाकी है। सूत्रों का कहना है कि सीटों के बंटवारे को लेकर घोषणा इस सप्ताह में की जा सकती है।

आपको बता दें कि आरएसएलपी ने मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में पचास से ज्यादा सीटों पर अपने उम्मीदवार घोषित कर दिए हैं। उपेंद्र कुशवाह यादवों का दूध और कुशवाहों का चावल मिलाकर खीर बनाने और बांटने की बात भी कर रहे हैं।

ऐसे में यह बंटवारा क्या अंतिम रूप लेगा, यह देखना दिलचस्प होगा। अगर कुशवाहा अलग होते हैं तो फिर ऐसे में उनकी दो सीटों को बीजेपी और जेडीयू आपस में बांट सकते हैं। खबर यह भी है कि इन दलों ने लोकसभा के साथ ही विधानसभा के लिए भी सीटों के बंटवारे को अंतिम रूप दे दिया है।

Top Stories