Wednesday , December 13 2017

सीपीआई (एम) ने अखिलेश को पत्र लिखकर अखलाक के परिवार के लिए सुरक्षा की मांग की

नई दिल्ली: सीपीआई (एम) ने आज आरोप लगाया कि मोहम्मद अखलाक के परिवार के खिलाफ जो FIR दर्ज करवाई गयी है यह भाजपा द्वारा रची गयी “साजिश” का एक हिस्सा है उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से अनुरोध किया है कि अखलाक़ के परिवार वालों की सुरक्षा ले लिए आवश्यक क़दम उठाए जाएँ |

यादव को लिखे पत्र में सीपीआई (एम) पोलित ब्यूरो की सदस्य वृंदा करात ने आज  कहा कि  कथित तौर पर उसकी हत्या में शामिल लोगों द्वारा दबाव के तहत अखलाक के परिवार के सदस्यों पर ये मामला दर्ज किया गया है | इस मामले के गवाह परिवार के सदस्यों को धमकी दी जा रही है उनके द्वारा दिए गये बयानों से स्पष्ट है कि भाजपा के वरिष्ठ नेता भी अखलाक परिवार को निशाना बनाने में शामिल  हैं | हमारा आपसे अनुरोध है कि इस मामले को सही प्रकार से कार्यवाई करते हुए न्यायिक प्रक्रिया में कोई विलंब नहीं होना चाहिए |

करात ने कल उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से बात की, कहा  कि अखलाक के परिजनों के खिलाफ याचिकाकर्ताओं द्वारा बगैर किसी सुबूत के  पूरी तरह से झूठे आरोप लगाये गये हैं जो सीआरपीसी की धारा 156  (3) के “घोर दुरुपयोग’ का मामला है | इस पर चिंता ज़ाहिर करते हुए करात ने कहा कि पुलिस और प्रशासन द्वारा इस दुरूपयोग को रोकने के लिए उचित क़दम नहीं उठाए गये हैं |

उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र में सरकार में बैठे कुछ शक्तिशाली संरक्षको द्वारा गौहत्या के इस झूठे मामले का सांप्रदायिक ध्रुवीकरण कर सांप्रदायिक लाभ उठाने की कोशिश की जा रही है |
गौरतलब है कि अदालत के आदेश पर कार्रवाई करते हुए कथित गोहत्या के लिए अखलाक और उनके परिवार के सदस्यों में से छह के खिलाफ कल मामला दर्ज किया गया था ।

पिछले साल 29 सितंबर अखलाक उसके परिवार को घर में गौमांस रखने और गौमांस का सेवन करने के लिए भीड़ द्वारा मार डाला गया था |

 

TOPPOPULARRECENT