Tuesday , December 19 2017

सीबीआई ने राजा भैया के तीन आदमी को हिरासत में लिया

कुंडा, 13 मार्च: सीबीआई ने मंगल के दिन कुंडा इलाके के पुणेमऊ गांव के पास से तीन लोगों को हिरासत में ले लिया। जिन्हें पकड़ा गया है, उनके नाम नन्हें सिंह, संतोष सिंह उर्फ देवा और राम मूरत बताए जा रहे हैं।

कुंडा, 13 मार्च: सीबीआई ने मंगल के दिन कुंडा इलाके के पुणेमऊ गांव के पास से तीन लोगों को हिरासत में ले लिया। जिन्हें पकड़ा गया है, उनके नाम नन्हें सिंह, संतोष सिंह उर्फ देवा और राम मूरत बताए जा रहे हैं।

तीनों ही साबिक वज़ीर राजा भैया से जुड़े बताए जाते हैं और उनके रिश्ते गुड्डू व राजीव से भी हैं। हालांकि, इन तीनों के नाम प्रतापगढ़ मामले में दर्ज चारों मुकदमों में से किसी में नहीं हैं, लेकिन उनके मुल्ज़िमीन से मुसलसल राबिता में होने की इत्तेला सामने आई है।

टीम ने गायब असलहों की तलाश में बलीपुर गांव के पीछे कछार गई और जंगल में कुछ तलाशती रही। मारे गए प्रधान नन्हें यादव के एक भाई पवन की तलाश में टीम के दो मेम्बर इलाहाबाद के फाफामऊ कस्बे गए।

इस बीच अदालत की तरफ से मंगल को दो मुल्ज़िम गुड्डू सिंह और राजीव सिंह की रिमांड मंज़ूर होने के बाद सीबीआई की टीम उन्हें वापस लेकर प्रतापगढ़ जेल चली गई, जहां से उन्हें आज को रिमांड पर लिया जाना है।

सीबीआई की टीम कैसरबाग वाकेय् सीबीआई की खास अदालत पर सुबह 9:30 बजे ही पहुंच गई थी। यहां अदालत के कमरे के बाहर बैठे गुड्डू सिंह ने कहा कि उसने तो प्रतापगढ़ पुलिस को भी सारी बात बता दी है। सीबीआई पूछताछ करेगी तो उन्हें भी बताया जाएगा।

दोनों मुल्ज़िमों ने पुलिस को जो बयान दिया है उसके मुताबिक नन्हें व कामता के बीच एक जमीन को लेकर पुराना झगड़ा चला आ रहा है और तकरीबन दो माह पहले जब कामता ने अपने नाती की शादी की तो नन्हें और सुरेश ने वहां जाकर न सिर्फ उपद्रव किया बल्कि दूल्हे की मोटर साइकिल भी छीन लाए थे। इस वाकिया की शिकायत नन्हें ने हथिगवां थाने में की थी, पर कोई सुनवाई नहीं हुई थी। इसी का बदला लेने के लिए हत्या किया गया।

सीबीआई का मानना है कि ग्राम प्रधान नन्हें यादव और उनके भाई सुरेश के कत्ल के इल्ज़ाम में गिरफ्तार साबिक वज़ीर राजा भैया के खास गुड्डू सिंह व उसके भाई राजीव सिंह से पूछताछ में कई राज खुलने की उम्मीद है।

सीबीआई दोनों मुल्ज़िमो का सामना कुछ दूसरे लोगों से भी कराने की तैयारी में है। जिनसे सामना कराया जाना है, उन्हें सीबीआई ने मंगलवार को ही पुणेमऊ गांव से उठाया है।

TOPPOPULARRECENT