Friday , December 15 2017

सीमांध्र और तेलंगाना में 2 जून से पहले हुकूमतों का क़ियाम मुश्किल?

सीमांध्र और नई वजूद में आने वाली तेलंगाना रियासत में हुकूमतों का क़ियाम 2 जून से पहले होने की उम्मीद नहीं है। 2 जून को तेलंगाना और सीमांध्र रियासत का वजूद अमल में आएगा।

सीमांध्र और नई वजूद में आने वाली तेलंगाना रियासत में हुकूमतों का क़ियाम 2 जून से पहले होने की उम्मीद नहीं
है। 2 जून को तेलंगाना और सीमांध्र रियासत का वजूद अमल में आएगा।

चूँकि 2 जून तक आंध्र प्रदेश एक ही रियासत रहेगी इस लिए फ़न्नी एतेबार से नई हुकूमतों का क़ियाम मुश्किल रहेगा। सरकारी ज़राए ने ये बात बताई।

इस तरह चुनाव और नताइज के एलान के बावजूद आंध्र प्रदेश 2 जून तक सदर राज में रहेगी। समझा जा रहा हैके रियासत की तक़सीम से मुताल्लिक़ इंतेज़ामी काम भी 2 जून से पेहले मुकम्मिल करलिया जाएगा।

इस तरह दोनों असेंबलीयों के नौ मुंतख़ब अरकान को अपनी ज़िम्मा दारियां सँभालने के लिए 2 जून तक इंतिज़ार करना पड़ सकता है।
सीमांध्र में तेलुगु देशम पार्टी पहली हुकूमत बनाएगी जबकि टी आर एस को नई रियासत तेलंगाना में पहली हुकूमत तशकील देने का मौक़ा हासिल हुआ है।

TOPPOPULARRECENT