Saturday , December 16 2017

`सीमांध्र के अवाम फ़िक्रमंद ना हों’

तशकीले तेलंगाना किसी की फ़तह या शिकस्त नहीं है बल्कि तेलंगाना अवाम की इज़्ज़त नफ़स और उनके वक़ार का मसला रहा है जिस में आज तेलंगाना अवाम ने अपनी इज़्ज़त नफ़स और वक़ार को हासिल करलिया।

तशकीले तेलंगाना किसी की फ़तह या शिकस्त नहीं है बल्कि तेलंगाना अवाम की इज़्ज़त नफ़स और उनके वक़ार का मसला रहा है जिस में आज तेलंगाना अवाम ने अपनी इज़्ज़त नफ़स और वक़ार को हासिल करलिया।

सदर टी आर एस के चंद्रशेखर राव‌ ने दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस से ख़िताब के दौरान ये बात कही। सदर तेलंगाना राष़्ट्रा समीती के चंद्रशेखर राव‌ ने राज्य सभा में तशकीले तेलंगाना बिल को मंज़ूरी हासिल होने पर मुबारकबाद पेश करते हुए कहा कि आज का दिन तेलंगाना के लिए तारीख़ी दिन है।

उन्होंने कहा कि तशकीले तेलंगाना का सहरा सोनिया गांधी के सर जाता है। जिन लोगों ने हुसूले तेलंगाना के लिए जद्द-ओ-जहद की उनकी तहरीक को फ़रामोश नहीं किया जा सकता।

उन्होंने तेलंगाना को हक़ीक़त में तबदील करने में गिरां क़दर रोल अदा करने वालों से शख़्सी तौर पर इज़हारे तशक्कुर किया। टी आर एस ने बताया कि अब वक़्त आगया हैके हैदराबाद को बैन-उल-अक़वामी सतह के शहर की तरह तेज़ रफ़्तार तरक़्क़ी को यक़ीनी बनाया जाये।

राव‌ ने हैदराबाद के अलावा तेलंगाना के दुसरे अज़ला में रहने वाले सीमांध्र के अवाम को तफ़क्कुरात में मुबतला ना होने का मश्वरा देते हुए कहा कि तेलंगाना में रहने वाले सीमांध्र के अवाम भी हमारे भाई हैं और वो इतमीनान के साथ तेलंगाना में रह सकते हैं। चूँकि वो भी तेलंगाना का ही हिस्सा हैं। उन्हें हम मसावी के मवाक़े फ़राहम करेंगे। उन्होंने कहा कि आइन्दा दो दीन में वो सोनिया गांधी से शख़्सी तौर पर मुलाक़ात करते हुए तशकीले तेलंगाना पर इज़हार-ए-तशक्कुर करेंगे।

TOPPOPULARRECENT