Tuesday , December 12 2017

सीमा आंध्र क़ाइदीन पर अवाम को गुमराह करने का इल्ज़ाम

सीमा आंध्र क़ाइदीन की बलॉक मेल सियासत और पार्टी उसूलों की ख़िलाफ़वरज़ी पर अगर कांग्रेस हाईकमान कार्रवाई करती तो तेलंगाना का मसला हल होजाता और आज तीन साल के अरसे में दोनों इलाक़ों में मर्कज़ के तआवुन से तरक़्क़ी का मौक़ा मिलता।

सीमा आंध्र क़ाइदीन की बलॉक मेल सियासत और पार्टी उसूलों की ख़िलाफ़वरज़ी पर अगर कांग्रेस हाईकमान कार्रवाई करती तो तेलंगाना का मसला हल होजाता और आज तीन साल के अरसे में दोनों इलाक़ों में मर्कज़ के तआवुन से तरक़्क़ी का मौक़ा मिलता।

इन ख़्यालात का इज़हार साबिक़ा रियासती वज़ीर टी जीवन रेड्डी ने आज दोपहर अपने घर पर प्प्रेस कांफ्रेंस को मुख़ातब करते हुए किया ।
उन्होंने कांग्रेस पार्टी हाईकमान से मुतालिबा किया कि तेलंगाना मसले पर दिए गए बयान पर क़ायम रहते हुए जल्द अज़ जल्द फैसला करें ।

उन्होंने सीमा आंध्र क़ाइदीन पर सख़्त तन्क़ीद करते हुए टी जय वेंकटेश के बयान की सख़्त मज़म्मत की। आज जबकि तेलंगाना पर हाईकमान क़तई फैसला लेने जा रही है तो ये कहना कि तेलंगाना अवाम को किसी किस्म की कोई दिलचस्पी नहीं है।

ये दरअसल मर्कज़ को गुमराह करने की कोशिश है। आज जबकि हाईकमान ने साफ़ इशारा दे दिया हैके तेलंगाना मसले पर तमाम मुज़ाकरात ख़त्म क़तई फैसला लेना बाक़ी है। इसे में फिर सीमा आंध्र क़ाइदीन रुकावट डालने का इल्ज़ाम लगाया।

TOPPOPULARRECENT