Tuesday , January 23 2018

सीरिया पर अमेरिकी कार्रवाई अंतरराष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन है- पुतिन

दमिश्क। सीरिया में रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल के बाद अमरीका ने बड़ी कार्रवाई करते हुए सीरियाई सैन्यअड्डों पर 59 टॉमहॉक मिसाइलें दागी। सीरिया पर अमरीकी हमले से दुनिया की दो महाशक्ति आमने-सामने होती नजर आ रही है।

अब तक सीरिया का साथ दे रहे रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि यह हमला एक संप्रभु देश पर आक्रमण और अंतर्राष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन है।

इसके साथ ही रूस ने अमरीका को चेतावनी दी है कि इससे अमरीका और रूस के संबंध और बिगड़ेंगे। वहीं, सीरिया ने भी गुरुवार रात हुए इन हमले को अमरीकी आक्रामकता बताया है। गौरतलब है कि सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल-असद की सरकार के खिलाफ अमेरिका ने पहली बार प्रत्यक्ष सैन्य हमला किया है।

रूस ने मिसाइल दागे जाने से कुछ मिनट पहले ही अमरीका को सीरिया पर सैन्य हमले के नकारात्मक परिणाम भुगतने की चेतावनी दी थी। अमरीकी सैन्य कार्रवाई में छह सीरियाई सैनिकों की मौत हो गई और सीरिया के मध्य प्रांत होम्स में शेरत सैन्यअड्डे को भारी क्षति पहुंची है।

अमरीकी सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि ये हमले सीरिया सैन्यअड्डे के रनवे, विमानों और ईंधन भंडारण ठिकानों को निशाना बनाकर किए गए। ये मिसाइलें पूर्वी भूमध्यसागर से युद्धपोतों से दागी गईं।

TOPPOPULARRECENT