सीरिया में तबाही के बाद पुर्ननिर्माण के लिए खर्च उठाएगा सऊदी अरब- अमेरिका

सीरिया में तबाही के बाद पुर्ननिर्माण के लिए खर्च उठाएगा सऊदी अरब- अमेरिका

अमरीका के राष्ट्रपति ने एक बार फिर सऊदी अरब की दौलत का उल्लेख करते हुए कहा कि सीरिया में हुई तबाही के बाद इस देश के पुनरनिर्माण का ख़र्च अमरीका के बजाए सऊदी अरब उठाएगा। डोनल्ड ट्रम्प ने अपने ट्वीटर हैंडल पर लिखा कि सऊदी अरब ने सहमति जताई है कि वह सीरिया के पुनरनिर्माण का ख़र्च उठाएगा।

ट्रम्प ने आगे लिखा कि आप देख रहे हैं कि यह कितनी अच्छी बात है कि सुपर पावर के बजाए धनवान देश ख़ुद ही अपने पड़ोसी देशों के पुनरनिर्माण की ज़िम्मेदारी उठा रहे हैं क्योंकि वैसे भी अमरीका इस इलाक़े से 5 हज़ार मील दूर है अतः हम सऊदी अरब का आभार व्यक्त करते हैं।

धमकी भरे स्वर वाले इस ट्वीट के जवाब में अब तक सऊदी अरब की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। ट्रम्प ने इसके साथ ही यह भी लिखा कि अमरीका के घटकों को यह मौक़ा नहीं दिया जाएगा कि वह अमरीका का दुरुपयोग करें।

उन्होंने युद्ध मंत्री जेम्ज़ मैटिस के त्यागपत्र की आलोचना भी की। ट्रम्प ने इस आरोप को ख़ारिज कर दिया कि वह मनमानी निर्णय कर रहे हैं और घटकों को नज़रअंदाज़ कर रहे हैं, लेकिन साथ ही यह भी लिखा कि कुछ घटक देश अमरीका से अपनी दोस्ती का ग़लत फ़ायदा उठाते हैं।

ट्रम्प ने कहा कि हम दुनिया के कई देशों की सेनाओं की मदद कर रहे हैं और इन देशों ने अमरीका से मिलने वाली मदद और अमरीकी करदाताओं से ख़ूब फ़ायदा कमाया है। ट्रम्प ने लिखा कि जनरल मैटिस इस स्थिति को एक समस्या के रूप में नहीं देखते थे जबकि मैं इसे समस्या के रूप में देखता हूं।

साभार- ‘parstoday.com’

Top Stories