सीरिया में हालात को देख संयुक्त राष्ट्र बेहद चिंतित, युद्ध से बचाने की कोशिश जारी

सीरिया में हालात को देख संयुक्त राष्ट्र बेहद चिंतित, युद्ध से बचाने की कोशिश जारी
Click for full image

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुतारेस ने सीरिया में लगातार हो रही हिंसा और युद्ध की स्थिति पर गंभीर चिंता जताते हुए कहा कि देश में खूनखराबे के हालात हैं। उन्होंने देश में संघर्ष विराम के लिए संयुक्त राष्ट्र प्रस्ताव को पूरी तरह से लागू करने का आह्वान किया। यहां आठ वर्ष से युद्ध के हालात बने हुए हैं। संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने कहा कि सीरिया में युद्ध की स्थिति खत्म नहीं हुई है।

उन्होंने कहा कि कुछ इलाकों में संघर्ष कम है हालांकि अफरिन , इदलिब के कुछ हिस्सों और दमिश्क तथा उसके उपनगरों समेत पूर्वी घोउता में हिंसा जारी है. संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने 15 सदस्यीय सुरक्षा परिषद से कहा , ‘‘ मैं सीरियाई लोगों की मौत और उनकी परेशानियों से बहुत दुखी हूं।

मैं उन लोगों से भी बहुत निराश हूं जिन्होंने साल दर साल इसे होने दिया। वह पिछले महीने सर्वसम्मति से पारित किए गए सुरक्षा परिषद प्रस्ताव 2401 को लागू किए जाने पर कल परिषद को संबोधित कर रहे थे।

गुतारेस ने कहा कि मैं एक कठोर तथ्य बता दूं कि सीरिया में संघर्ष शुरू होने के बाद से किसी भी अन्य वर्ष की तुलना में 2017 में सबसे अधिक बच्चे मारे गए। उन्होंने कहा, ‘‘ बृहस्पतिवार को यह संघर्ष 8वें साल में प्रवेश कर जाएगा।

मैंने सीरिया को राख से उठते हुए देखने की उम्मीद नहीं खोई है. गुतारेस ने सीरिया के पूर्वी घोउता में हाल में हुए रासायनिक हथियार हमले संबंधी खबरों की भी निंदा की।

Top Stories