Wednesday , September 19 2018

सी ए जी रिपोर्ट सरकार की भ्रष्टाचार और विकलांगता का सबूत

हैदराबाद: सी ए जी रिपोर्ट चीफ़ मिनिस्टर चन्द्र शेखर राव‌ के मुँह पर तमांचा है सी ए जी रिपोर्ट में सरकार‌ की अनियमितताओं और भ्रष्टाचार के अलावा अयोग्य शासन सामने आ चुका है जिस पर चन्द्र शेखर राव‌ को इस्तीफा हो जाना चाहिए । विपक्षी नेता, तेलंगाना विधायी परिषद श्री मोहम्मद अली शबीर ने आज मीडीया से बातचीत के दौरान ये बात कही। उन्होंने बताया पिछले 4 साल‌ के दौरान वो ख़ुद और विपक्षी नेता के जाना रेड्डी यही कह रहे थे जो बात अब सी ए जी रिपोर्ट में आम है।

उन्होंने बताया कि सरकार‌ की ओर‌ से अल्पसंख्यक पिछड़ा वर्ग और दलितों के लिए बजट का 50 फ़ीसद हिस्सा भी ख़र्च नहीं किया गया और ना ही कल्याणकारी योजनाओं पर प्रभावी रूप से लागू नहीं किया गया है। उन्होंने चीफ़ मिनिस्टर पर राज्य की जनता को गुमराह करने और बजट वाली राज्य‌ के तौर पर पेश करने की कोशिश को धोका दही क़रार देते हुए कहा कि चीफ़ मिनिस्टर फ़ौरी इस धोका दही के इस्तिफा होजाएं।

मुहम्मद अली शब्बीर ने कहा मुख्यमंत्री और उनके विधायकों और मंत्रियों सदन में हमेशा दारोग़-गोई से काम लेते हुए विपक्ष के तथ्य पेश करने पर उन्हें निशाना बना कर कमज़ोर करने की कोशिश करते रहे। उन्होंने बताया कि जो अधिकारी राज्य‌ के ख़सारा की पर्दापोशी करके क़र्ज़ को छुपाते रहे हैं वो भी सरकार की धोका दही में बराबर के ज़िम्मेदार हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस इस बात का जायज़ा ले रही है कि राज्य‌ को वित्तीय हानि पहुंचाने वालों के ख़िलाफ़ क्या कार्रवाई की जा सकती है।

जनाब मुहम्मद अली ने 1990 के दौरान चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर ऐम चिन्ना रेड्डी को याद करते हुए कहा कि इस वक़्त चिन्ना रेड्डी ने सदन‌ को धर्मस्थान क़रार देते हुए कहा था कि इस मुक़ाम पर झूट और दारोग़-गोई से काम नहीं लिया जाना चाहिए लेकिन आज चीफ़ मिनिस्टर चन्द्र शेखर राव‌ बबानग दहल सदन‌ को गुमराह करके दारोग़-गोई से काम ले रहे हैं और उन्हें इस पर कोई अफ़सोस नहीं है। उन्होंने सरकार‌ से मांग‌ किया कि वो बजट की तैयारी में गुमराही पेश करने वाले अधिकारियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई करें और चीफ़ मिनिस्टर के अलावा अन्य नेता को चाहिए कि वो राज्य‌ के जनता से इस झूठा पर, राज्य के लोगों से माफी मांगनी चाहिए।

TOPPOPULARRECENT