Friday , January 19 2018

सी पी एम का तमाम कैडर माओवादी : ममता बनर्जी

* टी वी शो के दौरान सवालात पर गुस्से होगइ और वाक आउट किया

* टी वी शो के दौरान सवालात पर गुस्से होगइ और वाक आउट किया
कोलकता । चीफ़ मिनिस्टर पश्वीमी बंगाल ममता बनर्जी ने एक टी वी शो के दौरान गुस्से होते हुए शो से वाक आउट कर दिया। उन्हों ने स्टूडंटों को माओवादी कहा जो उन से शो के दौरान सवालात कर रहे थे।

शुक्रवार‌ की शाम टेलीविज़न की तरफ‌ से बहस‌ शुरू हुइ तो चीफ़ मिनिस्टर ममता बनर्जी ने पुलिस को हिदायत दी कि वो इस शो में शामिल उन‌ तमाम लोगों के फोटों खिंच लें जो उन से सवालात कर रहे हैं, क्योंकि ये लोग मुझ से ढंग के सवालात नहीं कर रहे हैं। ग़ैरसरकारी खबरों के मुताबिक़ पुलिस ने इस वाक़िया की शनिवार‌ के दिन जांचपडताल‌ शुरू करदी है।

राजय‌ में औरतों पर हमलों में बढावे के बारे में जब ममता बनर्जी से सवालात किए गए तो वो गूस्से होगईं और कहा कि में ये ज़रूर कहूँगी यहां मौजूद तमाम लोग‌ सी पी आई एम कैडर मावीस्ट है। में सी पी एम के सवालात का जवाब नहीं दे सकती।

सी एन एन । आई बी उन की तरफ‌ से मुनाकिद इस बहस‌ के दौरान ममता दी और वीधार्थीयों में सवालात जवाब का सैशन जारी था। इस मौके पर ममता बनर्जी उस वक़्त गुस्से होगईं जब जाधव पुर यूनीवर्सिटी के वीधार्थी ने एम्बिकेश महापुतरा प्रोफेसर जाधव पुर यूनीवर्सिटी की गिरफ़्तार का सवाल उठाया क्योंकि उन्हों ने ममता के ख़िलाफ़ एक कार्टून बनाया था।

ममता बनर्जी ने ग़ुस्से से कहा कि ये कार्टून नहीं था बल्कि मेरी तौहीन की गई थी। कार्टून एक मुख़्तलिफ़ चीज़ होती है। कार्टून बनाने वाला सी पी एम का आदमी है। ममता बनर्जी लगातार गुस्सा जाहिर‌ करते हुए शो से उठ कर चली गईं, उन्हें मनाने के लिए सी एन एन । आई बी उन की अंकुर सागर यक्का घोष ने कोशिश की।ममता बनर्जी ने झिड़क कर जवाब देते हुए उंगली दिखाते हुए कहा कि इस बहस‌ में शरीक लोग मावीस्ट हैं , वो जंगल में चले जाएं जहां मावीस्ट रहते हैं।

TOPPOPULARRECENT