Monday , November 20 2017
Home / AP/Telangana / सुप्रीमकोर्ट में 4 फ़ीसद मुस्लिम रिजर्वेशन के मुक़द्दमे की कल समाअत

सुप्रीमकोर्ट में 4 फ़ीसद मुस्लिम रिजर्वेशन के मुक़द्दमे की कल समाअत

हैदराबाद 28 फ़रवरी:तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में 4 फ़ीसद मुस्लिम रिजर्वेशन के मुक़द्दमे की समाअत 29 फ़रव‌री को सुप्रीमकोर्ट में मुक़र्रर है। दोनों रियासतों की हुकूमतों ने 4 फ़ीसद रिजर्वेशन का भरपूर दिफ़ा करने का फ़ैसला किया है और दोनों ने नामवर वुकला की ख़िदमात हासिल की हैं।

मुक़द्दमे की समाअत के मौके पर वुकला की इआनत के लिए सीनीयर आई ए एस ओहदेदार पी एस कृष्णन को मुक़र्रर किया गया है जो रिजर्वेशन के उमोर में माहिर हैं। बैयकवक़त वो इस मसले पर दोनों रियासतों के लिए काम करेंगे।

तेलंगाना और आंध्र प्रदेश की हुकूमतों ने बीसी और एससी वेलफेयर से मुताल्लिक़ ओहदेदारों की टीम को दिल्ली में मौजूद रहने की हिदायत दी है जबकि आंध्र प्रदेश हुकूमत ने अपने ला सेक्रेटरी को एक माह तक सिर्फ मुस्लिम रिजर्वेशन के मसले पर तवज्जा मर्कूज़ करने की हिदायत दी है। सुप्रीमकोर्ट ने 4 फ़ीसद मुस्लिम रिजर्वेशन के साथ यूपीए हुकूमत में दिए गए 4.5फ़ीसद रिजर्वेशन को भी शामिल कर लिया है इस के अलावा कर्नाटक और ट्मिलनाडु के रिजर्वेशन को भी इस मसले के साथ ज़म कर दिया गया। मर्कज़ी हुकूमत चूँकि रिजर्वेशन के ख़िलाफ़ है लिहाज़ा रिजर्वेशन के हामी अंदेशों का शिकार हैं।

इसी दौरान तेलंगाना क़ानूनसाज़ कौंसिल में क़ाइद अप्पोज़ीशन मुहम्मद अली शब्बीर ने इस बात पर हैरत का इज़हार किया कि तेलंगाना के एडवोकेट जनरल रिजर्वेशन के मुक़द्दमे में सुप्रीमकोर्ट में मुख़ालिफ़ीन के वकील हैं।

उन्होंने कहा कि रिजर्वेशन की फ़राहमी से मुसलसिल मुख़ालिफ़त में वकालत करने वाले के राम कृष्णा रेड्डी को टीआरएस हुकूमत ने हाईकोर्ट में एडवोकेट जनरल मुक़र्रर किया जबकि वो सुप्रीमकोर्ट में रिजर्वेशन के ख़िलाफ़ मुक़द्दमे में बहैसीयत वकील बरक़रार हैं। उन्होंने आज तक इस मुक़द्दमे से अलहिदगी इख़तियार नहीं की।

मुहम्मद अली शब्बीर ने इस सिलसिले में तेलंगाना हुकूमत को वज़ाहत करनी चाहीए। उन्होंने कहा कि केसीआर एक तरफ़ मुसलमानों को 12 रिजर्वेशन की फ़राहमी का वादा कर रहे हैं तो दूसरी तरफ़ मुख़ालिफ़ रिजर्वेशन वकील को ऐडवोकेट जनरल मुक़र्रर करना हुकूमत की दोहरी पालिसी को ज़ाहिर करता है। उन्होंने कहा कि तेलंगाना हुकूमत को चाहीए कि वो सुप्रीमकोर्ट में रिजर्वेशन मुक़द्दमे में राम कृष्णा रेड्डी को पैरवी से दूर रखे। मुहम्मद अली शब्बीर 2007 में वाई ऐस आर हुकूमत की तरफ से रिजर्वेशन की फ़राहमी के वक़्त वज़ारत में शामिल थे और उन्होंने हाईकोर्ट और सुप्रीमकोर्ट में मुक़द्दमे के वक़्त हुकूमत की तरफ से अहम रोल अदा किया था।

उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट से लेकर सुप्रीमकोर्ट तक तमाम मुक़द्दमात में राम कृष्णा रेड्डी रिजर्वेशन के ख़िलाफ़ रहे। लिहाज़ा तेलंगाना हुकूमत को अपने मौकुफ़ की वज़ाहत करनी चाहीए।

TOPPOPULARRECENT