Thursday , December 14 2017

सुप्रीम कोर्ट ने जया ललीता की सरज़निश की

नई दिल्ली, २१ नवंबर (पीटीआई) सुप्रीम कोर्ट ने आज चीफ़ मिनिस्टर तमिलनाडू जया ललीता को 2001 असेंबली इंतिख़ाबात के दौरान 4 पर्चा नामज़दगीयाँ दाख़िल करने पर सरज़निश की है। जस्टिस एच एल दत्तू और जस्टिस सी के प्रसाद पर मुश्तमिल बंच ने अना डी

नई दिल्ली, २१ नवंबर (पीटीआई) सुप्रीम कोर्ट ने आज चीफ़ मिनिस्टर तमिलनाडू जया ललीता को 2001 असेंबली इंतिख़ाबात के दौरान 4 पर्चा नामज़दगीयाँ दाख़िल करने पर सरज़निश की है। जस्टिस एच एल दत्तू और जस्टिस सी के प्रसाद पर मुश्तमिल बंच ने अना डी एम के सरबराह की दायर करदा अपील की समाअत के दौरान ये रिमार्क किया और कहा कि आप रियासत के आला ओहदा पर फ़ाइज़ हैं।

आप एक अवामी शख़्सियत है और साथ ही साथ एक सयासी जमात भी चला रही है। ऐसे में फिर आप ने इस तरह की हरकत क्यों की? अना डी एम के सरबराह ने सुप्रीम कोर्ट में अपील दायर करते हुए 4 नामज़दगियों के इदख़ाल के ख़िलाफ़ फ़ौजदारी कार्रवाई को कलअदम (Cancel) करने की ख़ाहिश की थी।

उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से रुजू होकर मद्रास हाइकोर्ट के हुक्म को चैलेंज किया, जिस ने इलेक्शन कमीशन को मजिस्ट्रेट कोर्ट में जया ललीता के ख़िलाफ़ मुक़द्दमा दर्ज करने का हुक्म दिया था। ताहम सुप्रीम कोर्ट के जुलाई 2007 में हुक्म इलतिवा की वजह से उसकी तामील ना हो सकी।

सुप्रीम कोर्ट ने इलेक्शन कमीशन के रिटर्निंग ऑफीसर को भी जया ललीता के ख़िलाफ़ कार्रवाई शुरू ना करने पर तन्क़ीदों का निशाना बनाया।

TOPPOPULARRECENT