Monday , December 18 2017

सुप्रीम कोर्ट ने बार-बार याचिका दाखिल पर भाजपा प्रवक्ता को लगाई फटकार

भाजपा प्रवक्ता अश्विनी उपाध्याय

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने बार-बार जनहित याचिका दाखिल करने को लेकर भाजपा प्रवक्ता अश्विनी उपाध्याय को फटकार लगाई है। कोर्ट ने कहा है कि कोर्ट कोई राजनीतिक अखाड़ा नहीं है।

सुप्रीम कोर्ट ने अश्विनी उपाध्याय से कहा कि आप क्या भारजा के लिए सुप्रीम कोर्ट में कैंपेन कर रहे हैं? क्या बार-बार हर मुद्दे पर जनहित याचिका दाखिल करने के लिए भाजपा आपको फाइनेंस कर रही है? क्या भाजपा ने आपको सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करने का काम दिया है? अगर आप भाजपा के प्रवक्ता हैं तो कोर्ट में क्या कर रहे हैं?

कोर्ट ने कहा कि भाजपा सभी सत्ता में है और आप मंत्री के पास जाकर जो भी दिक्कतें हैं, उन्हें दूर कर सकते हैं। ऐसा कोई दिन नहीं गया जब हमने आपको कोर्ट में न देखा हो। आपके पास दूसरा काम नहीं है क्या? कोर्ट ने कहा कि आप कपिल सिब्बल पर आरोप लगाते हैं कि वह राजनीतिक हस्ती हैं। और अब आज आप खुद बता रहे हैं कि आप भाजपा के प्रवक्ता हैं।
दरअसल, अश्विनी उपाध्याय ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर देश में शराब को लेकर नेशनल लीकर पॉलिसी बनाने की मांग की थी। सुप्रीम कोर्ट ने उनके इस याचिका को खारिज कर दिया।

TOPPOPULARRECENT