Monday , December 18 2017

सुप्रीम कोर्ट वकील महमूद प्राचेह की नांदेड़ आमद

नांदेड़ 22 अप्रैल: (सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़)महाराष्ट्र में ATSकी जानिब से बेक़सूर मुस्लिम नौजवानों पर दहश्तगर्दी के झूटे इल्ज़ामात की गिरफ्तारियों पर सख़्त एहतिजाज करते हुए उनकी रिहाई से मुताल्लिक़ क़ानूनी कोशिशें सब से पहले वेलफेय‌र पार्टी आफ़ इंडिया की जानिब से की गई।

इसी पस-ए-मंज़र में नांदेड़ ज़िला वेलफेय‌र पार्टी आफ़ इंडिया के ज़िम्मा दारान में शामिल फीरोज़ ख़ान ग़ाज़ी (ज़िला सदर ) ,शेब शहबाज़ (शहर सदर) हाफ़िज़ अनीस अहमद ख़ान (सेक्रेटरी )-ओ-दीगर पार्टी के ज़िम्मा दारान की जानिब से 21अप्रैल बरोज़ इतवार सुबह 11 ता एक बजे दिन एक अज़ीमुस्शान जल्सा-ए-आम का बमुक़ाम अबदुल हमीद फंक्शन हाल , टायर बोर्ड , दे गुलिवर नाका में इनइक़ाद अमल में आया।

इस जल्सा-ए-आम में मेहमानान ख़ुसूसी के तौर पर सुप्रीम कोर्ट के वकील जनाब महमूद प्राचेह नांदेड़ ने शिरकत की । सुप्रीम कोर्ट के वकील जनाब महमूद प्राचेह उसे बेक़सूर मुस्लिम नौजवान जोकि दहश्तगर्दी के झूटे इल्ज़ामात में पिछले कई सालों से जेल ख़ानों में कैद हैं उन की रिहाई से मुताल्लिक़ लड़ते हैं।

इस मौके पर जनाब शेब शहबाज़ ने कहा कि मुस्लमानों पर शिद्दत पसंदी , दहश्तगर्द सरगर्मियों में मुलव्विस होने के झूटे इल्ज़ामात ज़ाफ़रानी तनज़ीमों की जानिब से आइद किए जा रहे हैं जो ख़ुद आज़ादी से पहले दहश्तगर्दी के कामों में मुलव्विस थी और आज़ादी के बाद भी मज़हब के नाम पर अपनी बक़ा केलिए वो सब कुछ करने को तय्यार है जो उनका मज़हब उन्हें इजाज़त नहीं देता।

TOPPOPULARRECENT