Thursday , December 14 2017

सूबे में दहशत का माहौल : मोदी

पटना : भाजपा के सीनियर लीडर व साबिक वज़ीरे आला सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि तामीर काम में लगी कंपनियों से रंगदारी मांगे जाने और उनके मुलाजिम व अफसरों की मुसलसल हो रही क़त्ल की वारदात से पूरे बिहार में दहशत का माहौल कायम हो गया है। ऐसे में क्या बिहार की तरक्क्की हो पायेगा और यहां बाहर के सरमायाकार आ पायेंगे? एक बार फिर बिहार पुराने दिनों की तरफ तेजी से लौट रहा है।

उन्होंने सवाल उठाया कि सनीचर को जिस तरह से दरभंगा में सड़क तामीर करा रहे दो इंजीनियरों की दिन दहाड़े गोलियों से भून कर क़त्ल और इसके पहले शिवहर में बिजली महकमा से जुड़े एक सुपरवाइजर की रंगदारी के लिए क़त्ल कर दी गयी थी, उससे क्या पूरे बिहार में दहशत कायम नहीं हो गया है। जुर्म की बढ़ती वारदात को रोकने में जहां रियासत की पुलिस लाचार दिख रही हैं, वहीं हुकूमत भी बेबस नजर आ रही है। बैंक मुलाजिम, कारोबारी, तामीर काम में लगी कंपनियां और आम लोग डर और दहशत में हैं। ऐसे में तामीर काम में लगीं कंपनियां एक बार फिर बिहार से जाने के बारे में सोचने लगी हैं।

सरकार और पुलिस तामीर काम में लगी कंपनियों के मुलाजिम व अफसरों को सिक्यूरिटी मुहैया कराने में नाकामयाब साबित हो रही हैं। नीतीश कुमार और लालू प्रसाद को जुर्म की वारदात को रोकने के लिए पहल करनी चाहिए। वज़ीरे आला के बार–बार की हिदायत व दावों के बावजूद जुर्म की वारदात थमने का नाम नहीं ले रही हैं। मुजरिमों के हौसले इतने बुलंद है कि दिनदहाड़े क़त्ल, बैंक लूट और डकैतियों का तांता लग गया है।

TOPPOPULARRECENT