Monday , December 18 2017

सेंटर्ल यूनीवर्सिटीज़ में प्रोफेसर्स की 1310 जायदादें मख़लवा

नई दिल्ली: मुल्क की मुख़्तलिफ़ सेंटर्ल यूनीवर्सिटीज़ में एक सितम्बर 2015 तक 1310 प्रोफेसर्स की जायदादें मख़लवा थीं। मर्कज़ी वज़ीर फ़रोग़ इन्सानी वसाइल स्मृति ईरानी ने आज राज्य सभा में एक सवाल के जवाब में ये बात बताई।

इन्होंने कहा कि इन की विज़ारत और यूनीवर्सिटी ग्रान्ट्स कमीशन (यू जी सी) ने मुतअद्दिद मर्तबा सेंटर्ल यूनीवर्सिटीज़ को मकतूब तहरीर करते हुए टीचर्स की मख़लवा जायदादें जल्द अज़ जल्द पार‌ करने पर-ज़ोर दिया है।

इस के अलावा तक़र्रुत के अमल पर भी मुसलसल नज़र रखी जा रही है। एक और सवाल के जवाब में स्मृति ईरानी ने बताया कि अंडर ग्रेजुएट इंजीनीयरिंग ज्वाइंट ऐंटरैंस एगज़ाम (मैन) में लड़कियों का फ़ीसद ज़्यादा रहा। इन्होंने बताया कि 2014 में जहां 26.48 फ़ीसद लड़कियों ने ये इमतेहान लिखा वहीं साल 2015 में ये बढ़कर 26.73 फ़ीसद रिकार्ड किया गया।

जे ई ई (एडवांस्ड) में अहल क़रार पाने वाली लड़कियों के फ़ीसद में कमी वाक़्य हुई और 2014में 17.9 फ़ीसद की कमी वाक़्य हुई है।

TOPPOPULARRECENT