Friday , December 15 2017

सेंटर्ल वीजिलनेस कमीशन की सी बी आई से तफ़सीली रिपोर्ट तलब

नई दिल्ली, 10 मई: (पी टी आई) सेंटर्ल वीजिलनेस कमीशन (सी वी सी) ने कोयला ब्लॉक्स तख़सीस घोटाला की सी बी आई तहक़ीक़ात में मरकज़ की मुदाख़िलत से मुताल्लिक़ तफ़सीली रिपोर्ट तहक़ीक़ाती एजेंसी से तलब की है। सी बी आई से ये भी कहा गया है कि इस मुक़द्द

नई दिल्ली, 10 मई: (पी टी आई) सेंटर्ल वीजिलनेस कमीशन (सी वी सी) ने कोयला ब्लॉक्स तख़सीस घोटाला की सी बी आई तहक़ीक़ात में मरकज़ की मुदाख़िलत से मुताल्लिक़ तफ़सीली रिपोर्ट तहक़ीक़ाती एजेंसी से तलब की है। सी बी आई से ये भी कहा गया है कि इस मुक़द्दमा में ताज़ा तरीन मौक़िफ़ रिपोर्ट भी पेश की जाये। सरकारी ज़राए ने बताया कि सी वी सी ने कोयला ब्लॉक्स तख़सीस घोटाले की सी बी आई तहक़ीक़ात में मर्कज़ की मुदाख़िलत से मुताल्लिक़ इत्तेलाआत पर अज़खु़द कार्रवाई करते हुए ये इक़दामात किए।

ये भी इन्किशाफ़ ( ज़ाहिर) हुआ है कि सी बी आई की सुप्रीम कोर्ट को पेश करदा मुसव्वदा मौक़िफ़ रिपोर्ट में भी बाअज़ तब्दीलीयां की गई हैं। सी बी आई कोयला मादिनी ज़ख़ाइर की तख़सीस में बे क़ाईदगियों की सी वी सी की हिदायत पर तहक़ीक़ात कर रही है।

सुप्रीम कोर्ट ने कल सी बी आई, वज़ीर-ए-आज़म के दफ़्तर और वज़ारत कोयला के ओहदेदारों की सरज़निश की और उन के ख़िलाफ़ संगीन रिमार्कस करते हुए यहां तक कह दिया कि कोयला अस्क़ाम तहक़ीक़ाती रिपोर्ट का दल बदल दिया गया। करप्शन से मुताल्लिक़ सी बी आई के उमोर की सी वी सी निगरान है। सी वी सी ने एजेंसी के मुसव्वदा मौक़िफ़ रिपोर्ट में सयासी कारिंदों और सरकारी ओहदेदारों की मुदाख़िलत और इस सारे मुआमले पर नाराज़गी का इज़हार किया है।

ज़राए ने बताया कि कमीशन अनक़रीब सी बी आई डायरेक्टर रणजीत सिन्हा के साथ इजलास मुनाक़िद करते हुए इस मुआमले में एजेंसी की तहक़ीक़ात का जायज़ा लेगा। सी बी आई डायरेक्टर ने सुप्रीम कोर्ट में ये एतराफ़ किया कि एजेंसी की कोयला ब्लॉक्स तहक़ीक़ात पर मौक़िफ़ रिपोर्ट वज़ीर-ए-क़ानून अश्विनी कुमार और दो जवाइंट सेक्रेटरीज़ शुत्रो घुन्ना सिंह और ए के भल्ला ने मुलाहिज़ा की थी ।

ये दोनों बिलतर्तीब पी एम ओ और वज़ारत कोयला के जवाइंट सेक्रेटरीज़ हैं। मुसव्वदा रिपोर्ट में तब्दीलीयों का सख़्त नोट लेते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कल सी बी आई को पिंजरे में बंद तोता क़रार दिया था जो सिर्फ़ अपने मालिक की बोली बोलता है। सी बी आई ने इस मुआमले में अब तक 11 एफ़ आई आर दर्ज किए हैं।

TOPPOPULARRECENT