Thursday , January 18 2018

सेंटेविटा हॉस्पिटल में पेन किलर देने से खातून की मौत

रांची : रांची के सेंटेविटा अस्पताल पर अहले खाना ने इलाज में लापरवाही बरतने का इल्ज़ाम लगाया है। अस्पताल के गाइनिक डिपार्टमेंट में इलाज चल रहे प्रीती देवी की मौत के बाद अहले खाना ने हंगामा किया और डॉक्टर पर मामला दर्ज कराने की बात कही। अहले खाना ने बताया कि प्रीती देवी, सेक्टर तीन धुर्वा की रहने वाली है। उसके शौहर विजय कुमार सिंह बैंक मुलाज़िम है। वह हमाल में थी। इस दौरान उसे हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत को लेकर अहले खाना ने 23 नवंबर की दोपहर में एड्मिट कराया गया।
फूल मैच्योरिटी के अभी 20 दिन बाकी थे। इस दरमियान डॉक्टर की सलाह पर प्रीती का सिजेरियन ऑपरेशन करके हमल कराया गया। प्रीती ने बेटी को जन्म दिया। इसके बाद उसकी तबियत ठीक-ठाक थी। वह अपने घरवालों से मिलते-जुलते रही। रात करीब 12 बजे उसे दर्द हुआ। तब उसे पेन किलर का इंजेक्शन दिया गया। इसके बाद तबीयत बिगड़ती गई और देर रात करीब 1.38 बजे उसकी मौत हो गई। अहले खाना लाश लेने अस्पताल पहुंचे हैं और वे अस्पताल मैनेजमेंट से इस मामले में जवाब मांग रहे हैं कि आखिर प्रीती की मौत कैसे हुई।

TOPPOPULARRECENT