सेंट्रल स्कॉलरशिप्स, ओहदेदारों और कॉलेजेस से हिरासानी का सामना

सेंट्रल स्कॉलरशिप्स,  ओहदेदारों और कॉलेजेस से हिरासानी का सामना
Click for full image

मर्कज़ी हुकूमत की स्कॉलरशिप के हुसूल के सिलसिला में तलबा को एक तरफ़ ओहदेदारों तो दूसरी तरफ़ स्कूल और कॉलेजेस की जानिब से हिरासानी का सामना है। प्री मैट्रिक, पोस्ट मेट्रिक और मेरिट कम मेन्स स्कॉलरशिप के लिए दरख़्वास्तें दाख़िल करने की आख़िरी तारीख 16 नवंबर है लेकिन हज़ारों तलबा ओहदेदारों और स्कूल और कॉलेज इंतेज़ामीया के तसाहुल के बाइस परेशान हैं और उन्हें अंदेशा है कि वो अहलियत के बावजूद स्कॉलरशिप से महरूम हो जाएंगे।

मुख़्तलिफ़ कॉलेजेस और स्कूल्स के तलबा और ओलियाए तलबा ने शिकायत की कि अक़्लीयती फाइनेंस कारपोरेशन के दफ़्तर और हैदराबाद और रंगा रेड्डी के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर्स के दफ़ातिर में उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है और इस सूरते हाल का फ़ायदा उठाते हुए कॉलेजेस के इंतेज़ामीया दरख़्वास्तें ऑन लाइन करने के लिए भारी रक़म का मुतालिबा कर रहे हैं।

शिकायात मिली हैं कि कई स्कूल के इंतेज़ामीया ने दरख़्वास्तें हासिल करलीं लेकिन उन्हें ऑन लाइन करने से गुरेज़ कर रहे हैं जबकि बाअज़ स्कूल इंतेज़ामीया दरख़्वास्तें क़ुबूल करने से ही साफ़ इनकार कर रहे हैं।

इस सिलसिले में सेक्रेट्री अक़्लीयती बहबूद और डायरेक्टर अक़्लीयती बहबूद को फ़ौरी तवज्जा मबज़ूल करते हुए कार्रवाई करनी चाहीए ताकि अक़्लीयती तलबा मर्कज़ी हुकूमत की स्कॉलरशिप से महरूम ना होने पाएं।

Top Stories