Monday , December 11 2017

सेक्सी का मतलब ख़ूबसूरत-ओ-जाज़िब-ए-नज़र

सदर नशीन क़ौमी कमीशन बराए ख़वातीन ममता शर्मा ने कहा कि लफ़्ज़ सेक्सी को मनफ़ी तनाज़ुर में नहीं लिया जाना चाहीए क्योंकि इसका मतलब ख़ूबसूरत और जाज़िब-ए-नज़र है, लेकिन बी जे पी और ख़ातून तंज़ीमों ने ये दलील मुस्तर्द कर दी और इस तबसिरा को हैरत

सदर नशीन क़ौमी कमीशन बराए ख़वातीन ममता शर्मा ने कहा कि लफ़्ज़ सेक्सी को मनफ़ी तनाज़ुर में नहीं लिया जाना चाहीए क्योंकि इसका मतलब ख़ूबसूरत और जाज़िब-ए-नज़र है, लेकिन बी जे पी और ख़ातून तंज़ीमों ने ये दलील मुस्तर्द कर दी और इस तबसिरा को हैरत अंगेज़ और ख़वातीन की इहानत के मुतरादिफ़ क़रार दिया।

ममता शर्मा ने एक तक़रीब से ख़िताब करते हुए कहा कि सेक्सी के मानी ख़ूबसूरत और जाज़िब-ए-नज़र है चुनांचे इसका मनफ़ी पहलू अख़ज़ नहीं किया जाना चाहीए क्योंकि मसला उसी वक़्त शुरू होता है जब हम इसको मनफ़ी मानी लेते हैं।

उन्होंने कहा कि लड़के अक्सर लड़कीयों पर इस तरह के फ़िक़रे कसते हैं लेकिन उसे मनफ़ी अंदाज़ नहीं दिया जाना चाहीए। इस प्रोग्राम के फ़ौरी बाद बी जे पी ने ममता शर्मा पर तन्क़ीद करते हुए कहा कि इस तरह के ब्यानात के ज़रीया वो लड़कीयों के साथ छेड़छाड़ की हौसला अफ़्ज़ाई कर रही हैं।

बी जे पी रियास्ती नायब सदर सुमन शर्मा ने कहा कि एक क़ौमी सतह के ज़िम्मा दाराना ओहदा पर फ़ाइज़ होते हुए किसी ख़ातून का इस तरह का तबसिरा इंतिहाई शर्मनाक है। वो बहैसीयत सदर नशीन क़ौमी कमीशन बराए ख़वातीन अपनी ख़वातीन के मुफ़ादात के तहफ़्फ़ुज़ की ज़िम्मेदारी से फ़रार इख्तेयार कर रही हैं। ख़ातून तंज़ीमों ने भी उनके तबसिरे की मुज़म्मत की।

TOPPOPULARRECENT