Friday , December 15 2017

सेनानियों की हत्या के ख़िलाफ़ कश्मीर में हड़ताल, शहर पर प्रतिबंध दूसरे दिन जारी

सांकेतिक तस्वीर

श्रीनगर: घाटी कश्मीर में हालिया दिनों के दौरान सेक्योरिटी फ़ोर्सिज़ के साथ झड़पों में सेनानियों की हत्या के ख़िलाफ़ रविवार‌ के दिन‌ हड़ताल की गई जिससे आम ज़िंदगी रुक‌ कर रह गई।

हड़ताल के दौरान कश्मीर प्रशासन ने गर्मियों की राजधानी श्रीनगर के कई क्षेत्रों में नागरिकों के स्वतंत्र पर प्रतिबंध दूसरे दिन भी जारी रखा।जिसके कारण नागरिकों को गंभीर कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। शहर में कर्फ़यू जैसी प्रतिबंध जारी रखने के अलावा पूरी घाटी में रेल सेवाओं को लगातार दूसरे दिन निलंबित रखी गई।

उत्तर कश्मीर की एक रिपोर्ट के मुताबिक बंदी पोर्टा जिले में शनिवार शाम से मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं। उल्लेखनीय है कि जिले बांडी पूरा के चन्द्र गीर हाजिन में शनिवार की दोपहर सेनानियों और सुरक्षा बलों के बीच सशस्त्र संघर्ष शुरू हुआ जो शाम के समय 6 पाकिस्तानी लड़ाकों और भारतीय वायु सेना के एक कमांडो की मौत पर समाप्त हो गया।

राज्य पुलिस का दावा है कि मारे गए आतंकियों में मुंबई के आतंकवादी हमलों के मास्टरमाइंड ज़की अलरहमान लखवी का भतीजा भी शामिल है। इ इस सशस्त्र संघर्ष की समाप्ति के करीब दो घंटे बाद श्री गिलानी, मीरवाइज़ और यासीन मलिक शामिल संयुक्त प्रतिरोध नेतृत्व ने बयान जारी करके रविवार को घाटी में हड़ताल कॉल दे दी थी।

TOPPOPULARRECENT