Friday , December 15 2017

सेहत मंद दाँत , जिस्मानी सेहत की लाज़िमी ज़रूरत

हैदराबाद11 अप्रैल : जिस्मानी सेहत कादार-ओ-मदार सेहत मंद ग़िज़ा पर ही नहीं सेहत मंद दाँत पर मुनहसिर होता है । दाँत और मसूड़ों का अनफ़कशन सिर्फ़ दाँत या मुँह तक नहीं जिस्म में फैलता है और ये फ़ोकस आफ़ अनफ़कशन पूरे आज़ा को दिल , दिमाग़ फ

हैदराबाद11 अप्रैल : जिस्मानी सेहत कादार-ओ-मदार सेहत मंद ग़िज़ा पर ही नहीं सेहत मंद दाँत पर मुनहसिर होता है । दाँत और मसूड़ों का अनफ़कशन सिर्फ़ दाँत या मुँह तक नहीं जिस्म में फैलता है और ये फ़ोकस आफ़ अनफ़कशन पूरे आज़ा को दिल , दिमाग़ फपीहड़ों को मुतास्सिर करता है दल के मरीज़ के दाँत अगर मुतास्सिरा हैं तो ये फिर से क़लब पर हमले का बाइस बनता है ।

इन ख़्यालात का इज़हार माहिर डेंटल सर्जन डाक्टर मुहम्मद सिराज अलरहमन डायरैक्टर ने नीवडनट डेंटल हॉस्पिटल मुत्तसिल जामि मस्जिद अज़ीज़ ये हुमायूँ नगर में मुनाक़िदा आलमी यौम सेहत के मौक़ा पर किया । जहां बहैसीयत मेहमान ख़ुसूसी जनाब शेख़ इक़बाल आई पी ऐस सपरनटनडनट आफ़ पुलिस थे ।

जनाब इक़बाल ने कहा ख़िदमत-ए-ख़लक़ ही ख़िदमत ख़ुदा है । डाक्टर सिराज का मुफ़्त कैंप क़ाबिल-ए-सिताइश है । मौलाना ग़ुलाम नबी शाह नक़्शबंदी ने दुआ की ।

अदवियात , बरशश पेस्ट की मुफ़्त तक़सीम-ए-अमल में आई । डाक्टर अज़ीज़ , डाक्टर वफ़ा-ए-, डाक्टर कवीता ने मुआइना किया ।।

TOPPOPULARRECENT