Wednesday , December 13 2017

सैयारा अतारिद 8 फरवरी को क़ाबिले दीद

हैदराबाद 01 फरवरी: सैयारा अतारिद ग़ुरूब आफ़ताब के फ़ौरी बाद सूरज की खैराकुन रोशनी से दूर होगा और मग़रिबी आसमान में क़ाबिले दीद होगा।

हैदराबाद 01 फरवरी: सैयारा अतारिद ग़ुरूब आफ़ताब के फ़ौरी बाद सूरज की खैराकुन रोशनी से दूर होगा और मग़रिबी आसमान में क़ाबिले दीद होगा।

मुबहम सैयारा अतारिद 08 फरवरी की बुरज *जद्दी * मकर राशी में इसकी निशानदेही की जा सकती है, चूँके ये सैयारा इस दिन मिर्रीख़ के 0.4 दर्जा से कम क़तर में होगा। सैयारा अतारिद को वाज़िह तौर पर 2 फरवरी से 23 फरवरी तक बेहतर तौर पर देखा जा सकता है। स्यारा अतारिद चूँके सूरज से बहुत करीब होता है इसलिए इस की निशानदेही करना मुश्किल होता है। मुनव्वर तरीन सैयारा ज़ुहरा तुलू आफ़ताब से पहले सैयारा सहर के तौर पर मशरिक़ी आसमान पर काबुल मुरई है।

मिर्रीख़ बुरज-ए-दलव में दाख़िल हो गया और मग़रिब में देखा जा सकता है। निज़ाम ए शामसी का सब से बड़ा मुशतरी शफ़क़ ग़ुरूब में मशरिक़ी आसमान पर बुलंदी पर हनूज़ दिखाई देता रहेगा। मुशतरी बुरज-ए-सौर में है।

TOPPOPULARRECENT