Friday , December 15 2017

सोचता हूँ इस्तीफा दे दूं, अगर संसद हार गई तो बहुत बदनामी होगी: आडवाणी

नई दिल्ली: संसद के शीतकालीन सत्र के चलते पिछले तीन हफ़्तों से चल रहे हंगामे के कारण बार-बार स्थगित हो रही है। कभी सरकार तो कभी विपक्ष एक दूसरे पर संसद में बहस न करने का आरोप-प्रत्यारोप करने में लगे हैं। नोटबंदी के बाद विपक्ष लगातार प्रधानमंत्री मोदी को संसद में आकर बहस करने के लिए कह रही है। इसी बीच आज बीजेपी के सीनियर नेता लाल कृष्ण आडवाणी का गुस्सा फूट पड़ा और उन्होंने ये कह दिया की मेरा तो मन कर रहा है कि इस्तीफा दे दूं। ऐसा उन्होंने अन्य पार्टी के सदस्यों के साथ बातचीत के दौरान कहा। उन्होंने कहा, सदन में नोटबंदी के मुद्दे पर चर्चा होना बहुत जरुरी है।

नोटबंदी के मुद्दे पर विपक्ष और बीजेपी सदस्यों के भारी हंगामे के कारण जब सदन की कार्यवाही स्थगित भी हो गई तो भी आडवाणी वहां करीब 20 मिनट तक गंभीर तौर पर चिंता में डूबे नजर आये। आडवाणी का कहना है कि ‘सब को लगी है , मैं जीतू , मैं जीतू लेकिन यदि कल भी ऐसे ही हंगामे के बीच सदन स्थगित हो गया तो संसद हार जाएगी और हम सब की बहुत बदनामी होगी।’

TOPPOPULARRECENT