Saturday , December 16 2017

सोनीया गांधी और वज़ीर-ए-आज़म से माज़रत ख़्वाही का मुतालिबा

नई दिल्ली २१ नवंबर (पी टी आई) बी जे पी के सदर नतन गडकरी ने आज सदर कांग्रेस सोनीया गांधी और वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह से मुतालिबा किया कि वो पार्टी के बेक़सूर अरकान-ए-पार्लीमैंट को जेल भेजने की ग़लती पर क़ौम से माज़रत ख़्वाही करें।

नई दिल्ली २१ नवंबर (पी टी आई) बी जे पी के सदर नतन गडकरी ने आज सदर कांग्रेस सोनीया गांधी और वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह से मुतालिबा किया कि वो पार्टी के बेक़सूर अरकान-ए-पार्लीमैंट को जेल भेजने की ग़लती पर क़ौम से माज़रत ख़्वाही करें।

2008ए- के नोट बराए वोट अस्क़ाम में बी जे पी के तीन अरकान-ए-पार्लीमैंट को जेल में डाला गया था। बी जे पी लीडर एल् के अडवानी की 38 रोज़ा जन चेतना यात्रा के इख़तताम पर राम लीला ग्राउन्ड् पर मुनाक़िदा जल्सा-ए-आम से ख़िताब करते हुए गडकरी ने कहा कि अब ये साबित हो चुका है कि बी जे पी के तीन साबिक़ अरकान-ए-पार्लीमैंट बेक़सूर थे और उन्हें ग़लती से जेल भेजा गया था।

यू पी ए चॆयर् परसन सोनीया गांधी और वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह को ज़िम्मेदार ठहराते हुए उन्हों ने कहा कि अगर उन के पास बड़ा दिल है तो उन्हें क़ौम से माफ़ी मांगनी चाहियॆ। उन्हों ने कांग्रेस हुकूमत पर इल्ज़ाम आइद किया कि वो काले धन के मसला पर ग़ैर कारकर्दगी का मुज़ाहरा कर रही है।

TOPPOPULARRECENT