Saturday , December 16 2017

सोनी सोरी ने किया जेएनयू के छात्रों का समर्थन

kanhaiya-17-02-2016-1455703955_storyimage
नई दिल्ली: राजद्रोह के मामले में न्यायिक हिरासत में लिए गये कुछ छात्रों की रिहाई ले लिए अभी भी आंदोलन कर रहे छात्रों के साथ एकजुटता व्यक्त करने के लिए आम आदमी पार्टी की नेता और आदिवासी कार्यकर्ता सोनी सोरी ने सोमवार को यहां जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय का दौरा किया ।

सोरी, पर 20 फरवरी को अज्ञात हमलावरों ने छत्तीसगढ़ के बस्तर में हमला कर दिया था, उन्होंने विश्वविद्यालय प्रशासन ब्लॉक के सामने छात्रों को संबोधित किया और छात्रों को समर्थन देने का आश्वासन दिया।

दो जेएनयू छात्र – उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य अभी भी 14 दिन की न्यायिक हिरासत में हैं।

सोनी सोरी ने कहा कि जब कन्हैय्या जेल से वापस आया मैं उस वक़्त बहुत ख़ुश थी हमें अभी भी दो छात्रों के रिहा होने का इंतज़ार है जो फिर से हमारे बीच होंगे |

जब मैं पढ़ती थी हमें बताया गया था कि बच्चे और छात्र देश का भविष्य हैं| लेकिन इस वक़्त कुछ छात्रों को देश विरोधी बताया जा रहा है, कैसे देश इस तरह से प्रगति करेगा? इस लड़ाई को देख कर दुःख होता है जिसमें आप सभी शामिल हैं |

सोरी ने राज्य में आदिवासियों को निशाना बनाने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार के खिलाफ अपने संघर्ष के बारे में भी बात की ।

उन्होंने कहा कि आदिवासी सरकार और माओवादियों के बीच की इस लड़ाई में संघर्ष कर रहे हैं। हमें माओवादियों के नाम पर परेशान किया जा रहा हैं । हम इस सब से आजादी (स्वतंत्रता) चाहते हैं।मैं आज बहुत ख़ुश हूँ कि मैंने इस मुद्दे को आपके सामने रखा जेऐनयू के छात्र हमेशा हमारे संघर्ष में साथ खड़े रहे हैं |

TOPPOPULARRECENT