स्कूली तलबा-ए-को नाक़िस ग़िज़ा की सरबराही की शिकायत

स्कूली तलबा-ए-को नाक़िस ग़िज़ा की सरबराही की शिकायत

नई दिल्ली: क़ौमी हुक़ूक़-ए-इंसानी कमीशन ने दोपहर के खाने की स्कीम से इस्तिफ़ादा के बाद 80 बच्चे बीमार होजाने के वाक़िये पर लखनऊ ज़िला इंतेज़ामिया और उत्तरप्रदेश के महिकमा तालीमात को नोटिस जारी कर दी है। ये वाक़िया 2 सितंम्बर को इस वक़्त पेश आया जब शहर लखनऊ के इलाक़ा चनहाट में वाक़्य प्राइमरी स्कूलों के तलबा-ए-दोपहर के खाने की स्कीम के तहत सरबराह करदा ग़िज़ा खाने के बाद दस्त-ओ-किए की शिकायत की जिसके साथ ही मुतास्सिरा तलबा-ए-को अम्बोलेंस के ज़रिये राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल रवाना कर दिया गया।

मीडिया में शाय रिपोर्टस पर अज़ ख़ुद कार्रवाई करते हुए हक़ूक़-ए-इंसानी कमीशन ने सेक्रेटरी उत्तरप्रदेश प्राइमरी एजूकेशन डिपार्टमेंट डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट और सीनियर पुलिस सुप्रिटेंडेंट‌ लखनऊ को नोटिसें जारी करते हुए अंदरून 2 हफ़्ते रिपोर्ट तलब की है। कमीशन ने ये निशानदेही की कि जब स्कूली तलबा-ए-ने एक टीचर से ग़िज़ा में ख़राब बू आने की शिकायत की तो उन्हें ख़ामोश करते हुए खाना ख़त्म कर लेने के लिये कहा गया।

कमीशन ने क़सूरवार ओहदेदारों और इस टीचर के ख़िलाफ़ कार्रवाई की हिदायत दी जिसने बच्चों को ग़िज़ा इस्तेमाल करने पर मजबूर किया। क़बल अज़ीं 29 जुलाई को भी इलाक़ा आरेआ नगर के गर्वनमेंट प्राइमरी स्कूल में मिडडे मिल्ज़ स्कीम के तहत सरबराह खाना इस्तेमाल करने के बाद 50 तलबा-ए-अलील हो गए। जिस पर ज़िला इंतेज़ामीया ने तहकीकात का हुक्म दिया था।

Top Stories