Thursday , December 14 2017

स्कूलों ने जारी किया परिपत्र : बच्चों को इंटरनेट से रखें दूर

हैदराबाद। आज इंटरनेट दुनिया के लिए सूचना तकनीक का ख़ास तोहफा है लेकिन इसके दुरुपयोग से चिंता भी बढ़ रही है। छात्रों द्वारा मोबाइल फोन के उपयोग के नकारात्मक प्रभाव को ध्यान में रखते हुए शहर के विद्यालय अभिभावकों को परिपत्र भेज रहे हैं ताकि कंप्यूटर और मोबाइल उपकरणों पर बच्चों की गतिविधियों पर एक अंकुश लगाया जा सके। स्कूलों ने पहले ही स्कूलों में मोबाइल फोन पर प्रतिबंध लगा दिया है।

 

 

 

सिकंदराबाद के सेंट एन्स हाईस्कूल द्वारा जारी किए गए परिपत्र में बच्चों में सोशल नेटवर्किंग साइट्स की बढ़ती लोकप्रियता और उनके जोखिमों पर चिंता व्यक्त की है। इनमें ऑनलाइन बदमाशी, व्यक्तिगत जानकारी का खुलासा, साइबर धोखाधड़ी, अनुचित सामग्री तक पहुँच और बाल उत्पीड़न शामिल हैं। व्हाट्सएप, फेसबुक और अन्य साइटों पर बच्चों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले शब्दों और प्रतीकों के खिलाफ चेतावनी भी दी गई है।

 

 

 

दिल्ली पब्लिक स्कूल समेत अन्य विद्यालयों ने माता-पिता को सलाह दी है कि वे बच्चों के इंटरनेट का उपयोग करते समय उन पर नज़र रखें। तेलंगाना राज्य का अपराध जांच विभाग उनके द्वारा इंटरनेट और सेल फोन के उपयोग में वृद्धि के कारण बच्चों के खिलाफ ऑनलाइन अपराधों में वृद्धि के बारे में चिंतित हैं। अब वह ऑनलाइन बाल यौन शोषण के खिलाफ सुरक्षा पर सम्मेलन आयोजित कर रहा है। ख़ासतौर से इंटरनेट का दुरुपयोग बच्चों को बरग़लाने, फुसलाने और यहाँ तक कि उनके शारीरिक शोषण के लिए भी किया जाने लगा है।

TOPPOPULARRECENT