Saturday , January 20 2018

स्कॉलरशिप्स और फीस बाज़ अदाएगी की अदम वसूली पर अस्नाद रोकने वालों को इंतिबाह

महकमा अक़लीयती बहबूद ने फ़ीस बाज़ अदायगी स्कीम के बकाया जात की जल्द इजराई का त्यक़्कुन दिया है। महकमा फ़ाइनेन्स से इस मसअले पर सेक्रेट्री अक़लीयती बहबूद सैयद उमर जलील ने बातचीत की और गुज़िश्ता दो बरसों के बकायाजात की रक़म की इजराई पर ज़ोर दिया।

महकमा फ़ाइनेन्स ने त्यक़्कुन दिया कि अंदरून एक हफ़्ता अक़लीयती तलबा की फ़ीस बाज़ अदायगी के बकायाजात जारी कर दिए जाएंगे। वाज़ेह रहे तालीमी साल 2013-14 के बकायाजात 14 करोड़ हैं जबकि 2014-15 में इस स्कीम के तहत 116 करोड़ रुपये की इजराई बाक़ी है।

बजट की अदम इजराई के सबब कई अक़लीयती कॉलेजेस में तलबा के तालीमी सर्टीफ़िकेट्स और दीगर अस्नादात को रोक लिया गया है जिस के बाइस तलबा में बेचैनी पाई जाती है।

सेक्रेट्री अक़लीयती बहबूद ने बताया कि फ़ीस बाज़ अदायगी के बजट की इजराई के साथ ही कॉलेजेस को फ़ीस की रक़म जारी करदी जाएगी। गुज़िश्ता दो बरसों के दौरान इस स्कीम के बकायाजात की अदम इजराई के सबब जारीया तालीमी साल इस स्कीम पर अमल आवरी का अभी तक आग़ाज़ नहीं हो सका।

TOPPOPULARRECENT