Thursday , August 16 2018

स्टाफ की लापरवाही से मासूम बच्ची झुलसी

जोधपुर, 19 फरवरी: रामदेव अस्पताल में स्टाफ की लापरवाही के चलते एक नोमौलूद (Newborn) बच्ची झुलस गई। स्टाफ ने महज आधे घंटे पहले पैदा हुई बच्ची को सर्दी के वजह से हीटर के सामने रखा और भूल गया, जिससे इंतिहाई गर्म हवा में रहने से बच्ची का चेहरा

जोधपुर, 19 फरवरी: रामदेव अस्पताल में स्टाफ की लापरवाही के चलते एक नोमौलूद (Newborn) बच्ची झुलस गई। स्टाफ ने महज आधे घंटे पहले पैदा हुई बच्ची को सर्दी के वजह से हीटर के सामने रखा और भूल गया, जिससे इंतिहाई गर्म हवा में रहने से बच्ची का चेहरा, हाथ और सीना झुलस गया।

डॉक्टरों के मुताबिक बच्ची 20 फिसदी झुलस गई है। बच्ची का इतना जलना उतना ही तकलीफदेह है जितना की किसी ज़ईफ का 70 फीसदी जलना। अस्पताल के इ‍ंतेज़ामिया के मुताबिक इस वाकिया की जांच में एक फोर्थ ग्रेड के स्टाफ की गलती सामने आई है।

हीटर लगाने वाले मुलाज़्मीन को अस्पताल से हटा दिया गया है। मधुबन हाउसिंग बोर्ड साकिन ज्योति ने ज़ुमा की शाम इस बच्ची को जन्म दिया था।

डॉक्टरों का कहना है कि बच्ची की सेहत में थोड़ा सुधार हुआ है। पहले उसके झुलसे हाथ का इलाज होगा। चेहरा भी पूरी तरह ठीक हो जायेगा। हालांकि अगले कुछ दिन उसके लिये खास हैं।

सी एम ओ डॉ. एचआर गोयल ने महकमा सेहत के ज्वाइंट डायरेक्टर डॉ. रमेश माथुर की हिदायत पर अस्पताल के डायरेक्टर को नोटिस देकर इस मामले में 48 घंटे में जवाब मांगा है। बच्ची के वालिद जितेंद्र ने मीडिया को बताया कि उनका ध्यान अभी सिर्फ बेटी के इलाज पर है।

TOPPOPULARRECENT