स्पेन से अलग होकर ‘कातालूनिया’ बना एक नया देश, प्रस्ताव पारित

स्पेन से अलग होकर ‘कातालूनिया’ बना एक नया देश, प्रस्ताव पारित
Click for full image

कातालूनिया स्पेन से अलग होकर ख़ुद को गणराज्य के तौर पर अस्तित्व में आने की घोषणा की है| काफी लम्बे संघर्ष के बाद ख़ुद को आज़ाद कह रहे कातालूनिया ने अपने आपको एक नए देश के रूप में घोषित करते हुए इससे जुड़े प्रस्ताव को पारित कर दिया है| आज़ादी की घोषणा वाले प्रस्ताव के पक्ष में 70 लोगों ने वोट किया और इसके विपक्ष में मात्र 10 वोट किये गए| जबकि दो सदस्य इस मतदान के दौरान अनुपस्थित रहे|

स्पेन के दूसरे सबसे बड़े राज्य कातालूनिया में हिंसा के बीच हुए जनमत संग्रह में 90 प्रतिशत लोगों ने स्पेन से अलग होने के लिए वोट किया था। 75 लाख की आबादी वाले राज्य में लगभग 40 प्रतिशत लोगों ने जनमत संग्रह में भाग लिया। यहां 53 लाख रजिस्टर्ड वोटर्स हैं। कैटेलोनिया सरकार के प्रवक्ता जोर्डी टुरुल ने बताया कि लगभग 22 लाख मतों की गणना की गई, जिसमें करीब 20 लाख मत स्पेन से अलग होने के पक्ष में पड़े।

स्पेन में साल 2015 के चुनाव में कातालूनिया अलगाववादियों को जीत मिली थी। इस चुनाव के दौरान ही इन्होंने कातालूनिया को आजाद कराने के लिए जनमत संग्रह कराने का वादा किया था। साल 1977 में तानाशाही से उबरने के बाद से यह स्पेन में सबसे बड़ा राजनीतिक संकट माना जा रहा था। हालांकि स्पेन के नेतृत्व ने इस जनमत संग्रह को खारिज कर दिया था। कातालूनीया की संसद ने शुक्रवार को स्पेन से आजादी की घोषणा संबंधी प्रस्ताव पारित कर दिया, हालांकि स्पेन की सरकार ने कहा है कि वहां ‘वैधानिकता बहाल’ की जाएगी और क्षेत्र के पृथकतावादी प्रयास पर अंकुश लगाया जाएगा|

Top Stories