Saturday , December 16 2017

स्मार्ट कार्ड्स के ज़रीया बोग्स कार्ड्स का सफ़ाया

अगर रियासती हुकूमत की तरफ़ से शनाख़ती कार्ड्स की इजराई का काम बाक़ायदा तौर पर पूरा होगया तो ख़ास कर सतह ग़ुर्बत से नीचे ज़िंदगी गुज़ारने वाले अफ़राद के लिए राशन कार्ड्स सफेद राशन कार्ड्स क़िस्सा पारीना(माजी कि बात) बन कर रह जाएं

अगर रियासती हुकूमत की तरफ़ से शनाख़ती कार्ड्स की इजराई का काम बाक़ायदा तौर पर पूरा होगया तो ख़ास कर सतह ग़ुर्बत से नीचे ज़िंदगी गुज़ारने वाले अफ़राद के लिए राशन कार्ड्स सफेद राशन कार्ड्स क़िस्सा पारीना(माजी कि बात) बन कर रह जाएंगे । हुकूमत को उम्मीद है कि इस माह के ख़तम तक आधार कार्ड्स के तहत नामों के इंदिराज का काम मुकम्मल करलिया जाएगा ।

इस के बाद अवाम को स्मार्ट कार्ड्स जारी करने का काम शुरू कर दिया जाएगा । स्मार्ट कार्ड्स रखने वाले मुख़्तलिफ़ स्कीमों बशमोल आरोग्य श्री और तक़सीम के अवामी निज़ाम से अशयाए ज़रुरीया की सरबराही से इस्तिफ़ादा करेंगे ।

स्मार्ट कार्ड्स के इजरा का मक़सद तक़सीम के अवामी निज़ाम के बशमोल मौजूदा स्कीमों को मुस्तहकम करना है इस तरह बोग्स कार्ड्स का सफ़ाया होगा ।

TOPPOPULARRECENT