Saturday , November 18 2017
Home / AP/Telangana / स्मार्ट सिटीज के फंड्स को दुसरे मक़ासिद के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकता

स्मार्ट सिटीज के फंड्स को दुसरे मक़ासिद के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकता

नई दिल्ली 23 फरवरी: ये वाज़िह पयाम देते हुए कि स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के लिए मनज़ोरा फंड्स दुसरे मक़ासिद के लिए इस्तेमाल नहीं किए जा सकते। मर्कज़ी वज़ीर शहरी तरकियात एम वेंकया नायडू ने कहा कि प्रोजेक्ट की सरगर्मीयों पर सख़्त निगरानी और मुशाहिदा किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि स्मार्ट शहरों के इंतेख़ाब में कोई सियासत नहीं है क्युं कि उस की फ़हरिस्त में बीजेपी की ज़ेरे इक़तिदार कई रियासतें शामिल नहीं हैं जबकि शहरों की अशद ज़रूरीयात की बुनियाद पर ये इंतेख़ाब किया गया है। इलाहाबाद स्मार्ट सिटीज मिशन पर एक सेमीनार जिसमें मुल्क गीर सतह पर 23 मुंसिपल कारपोरेशन के सीनीयर ओहदेदार शरीक हैं जिन्हें मुंख़बा 20 शहरों की फ़हरिस्त में शामिल किया गया है, मुख़ातिब करते हुए उन्होंने इस प्रोजेक्ट की कामयाबी के लिए अवाम से तआवुन की गुज़ारिश की।

मर्कज़ी वज़ीर ने कहा कि नरेंद्र मोदी के पास कोई अलाउद्दीन का चिराग़ नहीं है जिसके ज़रीये हर एक शहर को स्मार्ट बनाया जा सके जिसके लिए अवामी शराकतदारी के साथ स्मार्ट लीडरों के ऐक्शण , वीज़न और इम्प्लेमेन्शन की ज़रूरत होती है।

TOPPOPULARRECENT