Tuesday , December 19 2017

स्वंतंत्रता सेनानी नहीं राजा था टीपू सुल्तान: कर्नाटक हाई कोर्ट

कर्नाटक: टीपू सुल्तान जयंती मनाने को लेकर कर्नाटक में एक बार फिर से विवाद बढ़ता नजर आ रहा है। कुर्ग के रहने वाले एक किसान केपी मंजूनाथ ने इस मामले में एक याचिका दायर करती हुए कोर्ट में अपील की है टीपू सुल्तान जयंती के आयोजन को रोक जाए और 10 नवंबर को होने वाले टीपू सुल्तान जयंती समारोह पर रोक लगाई जाए।

इस केस में सुनवाई करते हुए कर्नाटक हाई कोर्ट का कहना है की टीपू सुल्तान एक राजा था जोकि अपने हितों की रक्षा करने के लिए लड़ा था न की वह एक स्वतंत्रता सेनानी था जोकि अपने देश के लिए लड़ा हो।

चीफ जज एस कमल मुखर्जी की अध्यक्षता वाली पीठ ने राज्य में सांप्रदायिक तनाव की आशंका के बीच टीपू जयंती मनाने के सरकार के फैसले पर सवाल उठाए। सरकारी वकील एमआर नाइक ने इसपर जवाब देते हुए कहा कि टीपू महान योद्धा थे जिन्होंने अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लड़ी थी। जबकि याची के वकील साजन पुवइया ने टीपू सुल्तान को एक तानाशाह शासक बताया जिसने ईसाई सहित कई समुदायों के लोगों को मौत के घाट उतारा था।

आपको बता दें की पिछले साल जब कांग्रेस सरकार ने टीपू सुल्तान जयंती मनाए जाने का फैसला किया था तब भी काफी विवाद हुआ था। इस मामले की सुनवाई आज भी जारी रहेगी।

TOPPOPULARRECENT