Sunday , December 17 2017

स्वाइन फ्लू से 2 अम्वात उस्मानिया हॉस्पिटल में 15 जूनियर डॉक्टर्स मुतास्सिर

स्वाइन फ्लू से गांधी हॉस्पिटल में एक ख़ातून और एक नौजवान की मौत वाक़्ये होगई जबकि उस्मानिया हॉस्पिटल में 15 जूनियर डॉक्टर्स इस वबा से मुतास्सिर पाए गए।

स्वाइन फ्लू से गांधी हॉस्पिटल में एक ख़ातून और एक नौजवान की मौत वाक़्ये होगई जबकि उस्मानिया हॉस्पिटल में 15 जूनियर डॉक्टर्स इस वबा से मुतास्सिर पाए गए।

मोहलिक वबाई मर्ज़ H1N1 से मुतासिरा इन जूनियर डॉक्टर्स का ईलाज जारी है जबकि रियासत तेलंगाना में स्वाइन फ्लू का ख़ौफ़ अवाम में हनूज़ बरक़रार है। सरकारी आदाद-ओ-शुमार के मुताबिक़ गांधी हॉस्पिटल में उस वक़्त 58 मरीज़ों का जो स्वाइन फ्लू से मुतास्सिर हैं ईलाज किया जा रहा है। इन में 10 बच्चे हैं।

इसी तरह उस्मानिया हॉस्पिटल में 29 और फीवर हॉस्पिटल में 40 मरीज़ ज़ेरे इलाज हैं। दो माह में स्वाइन फ्लू से मरने वालों की तादाद 29 होगई हैं और सिर्फ़ माह जनवरी में 19 अफ़राद इस फ्लू का शिकार हुए। तमाम हॉस्पिटल्स में तिब्बी अमला चौकसी इख़तियार किए हुए हैं और इस वबा पर क़ाबू पाने के लिए बेहतर इक़दामात किए जा रहे हैं लेकिन मरीज़ों की तादाद मुसलसिल बढ़ रही है और हॉस्पिटल्स में तवील क़तारें देखी जा रही हैं।

कई मरीज़ उस वक़्त स्वाइन फ्लू की अलामात के साथ हॉस्पिटल्स से रुजू होरहे हैं जब इबतिदाई अलामात ज़ाहिर होने के बाद उन्होंने ख़ानगी क्लीनिक्स में ईलाज करवाया लेकिन सेहत बेहतर नहीं होपाई। इस तरह फ्लू का असर जब बहुत ज़्यादा होजाता है तब ये मरीज़ सरकारी हॉस्पिटल्स से रुजू होरहे हैं।

रियासती इंतेज़ामीया सूरते हाल पर कड़ी नज़र रखे हुए है और सरकारी दवाख़ानों में अदवियात-ओ-टीकों की कोई क़िल्लत नहीं है। एसे वक़्त जबकि डॉक्टर्स भी स्वाइन फ्लू से मुतास्सिर होरहे हैं अवाम और मेडिकल स्टाफ़ में तशवीश बढ़ गई है। रियासती हुकूमत ने बुलेटिन में बताया कि कल तक जुमला 1398 अफ़राद का तिब्बी मुआइना किया गया और 509की रिपोर्ट मुसबित रही। अवाम से ख़ाहिश की गई हैके वो परेशान ना हूँ और उन्हें एहतियाती तदाबीर इख़तियार करने का मश्वरह दिया गया।

TOPPOPULARRECENT