Monday , December 18 2017

हकीम तारिक़ मौलाना ख़ालिद पर मुक़द्दमा की वापसी की दरख़ास्त पर अदालत का आज फ़ैसला

लखनऊ, 10 मई: ( सियासत न्यूज़) रियासती हुकूमत की जानिब से बाराबंकी की एडीशनल ज़िला‍ ओ‍ सेशन जज एससी एसटी की अदालत नवंबर 2007 में लखनऊ, फ़ैज़ाबाद, वाराणसी की ज़िला अदालतों में बैयक वक्त हुए सायकिल बम धमाकों के मुल्ज़िमीन मुबय्यना मुस्लिम दहशत

लखनऊ, 10 मई: ( सियासत न्यूज़) रियासती हुकूमत की जानिब से बाराबंकी की एडीशनल ज़िला‍ ओ‍ सेशन जज एससी एसटी की अदालत नवंबर 2007 में लखनऊ, फ़ैज़ाबाद, वाराणसी की ज़िला अदालतों में बैयक वक्त हुए सायकिल बम धमाकों के मुल्ज़िमीन मुबय्यना मुस्लिम दहशतगर्द हकीम तारिक़ क़ासिमी मौलाना ख़ालिद मुजाहिद वग़ैरह के ख़िलाफ़ मुक़द्दमा वापस लेने की दरख़ास्त पर आज फ़ैसला सुनाएगी ।

रियासती हुकूमत ने ये दरख़ास्त समाजवादी पार्टी के इंतेख़ाबी मंशूर में किए गए वाअदे को पूरा करने के ज़िमन में बाराबंकी की अदालत में गुज़ारी थी । बाराबंकी रेलवे स्टेशन से ए टी एस वालों ने हकीम तारिक़ क़ासिमी और मौलाना ख़ालिद मुजाहिद को 22 दिसंबर को गिरफ़्तार किया था ।

ए टी एस ने उनके क़ब्ज़े से बम बनाने का साज़-ओ-सामान धमाका ख़ेज़ अशीया बड़ी मिक़दार में बरामद की थी । मौलाना ख़ालिद मुजाहिद हकीम तारिक़ क़ासिमी वग़ैरह पर लखनऊ फ़ैज़ाबाद की अदालतों में भी इसी नौईयत का मुक़द्दमा चल रहा है जहां मुक़द्दमा वापस लेने की कोई दरख़ास्त दाख़िल नहीं की गई बल्कि फ़ैज़ाबाद में जहां कल मुक़द्दमा की पेशी थी वहां अदालत में मुल्ज़िम सज्जाद की दरख़ास्त ज़मानत की मुख़ालिफ़त ना सिर्फ़ सरकारी वकील ने की बल्कि फ़ैज़ाबाद समाजवादी क़ाइद मंज़ूर इलाही ने दरख़ास्त ज़मानत की मुख़ालिफ़त के लिए पाँच सीनीयर वुकला की टीम अदालत में भेजी थी ।

हकीम तारिक़ क़ासिमी पर गोरखपुर 2007 बम धमाकों का मुक़द्दमा चल रहा है इसी मुक़द्दमा को वापस लेने की बात रियासती हुकूमत ने कही है लेकिन अभी तक मुक़द्दमा वापस लेने की कोई दरख़ास्त गोरखपुर की अदालत में दाख़िल नहीं की गई है । अखिलेश यादव मुबय्यना मुस्लिम दहशतगरदों को रिहा किए जाने के मुआमले में कितने संजीदा हैं और उसकी मर्ज़ी-ओ-मंशा‍ क्या है इसका पता आज चलेगा जब बाराबंकी के एडीशनल ज़िला‍ ओ‍ सेशन जज एससी एसटी मुक़द्दमा वापस लेने की दरख़ास्त पर अपना फ़ैसला सुनाएंगे ।

TOPPOPULARRECENT