Friday , January 19 2018

हज़ारों बाग़ीयों का दमिश्क़ छोड़ने का मुआहिदा खटाई में

इत्तिलाआत के मुताबिक़ अक़वामे मुत्तहिदा की ज़ेर निगरानी तय पाने वाले सालिसी मुआहिदे के तहत दमिश्क़ में फ़लस्तीनी मुहाजिरीन के कैंप यरमौक पर क़ाबिज़ हज़ारों शिद्दत पसंद जंगजूओं के दमिश्क़ से निकल जाने के मुआहिदे पर अमल दरामद रुक गया है।

मुआहिदे के तहत ख़ुद को दौलते इस्लामीया कहलाने वाली शिद्दत पसंद तंज़ीम और अलक़ायदा से मुंसलिक अलनसरा फ्रंट के हज़ारों शिद्दत पसंद जंगजूओं को दमिश्क़ के जुनूब में वाक़े फ़लस्तीनी पनाह गुज़ीन कैंप यरमौक के अंदरूनी और बैरूनी इलाक़ों से निकल जाना था।

ज़राए ने बताया है कि मुआहिदे पर अमल दरामद ना होने की वजह गुज़िश्ता रोज़ शामी फ़ौज के हमले में शिद्दत पसंद तंज़ीम जैश इस्लाम के सरब्राह की हलाकत की वजह से वो रास्ता ग़ैर महफ़ूज़ हो गया है जहां से शिद्दत पसंदों को लेकर जाने वाली बसों को गुज़रना था।

TOPPOPULARRECENT