Tuesday , June 19 2018

हज़ारों सुन्नी मुसलमानों के लिए शिया मजहबी गुरू आयतुल्लाह सीस्तानी की मदद

इराक़ : इराक़ के वरिष्ठ शिया धर्मगुरु आयतुल्लाह सीस्तानी ने देश के सलाहुद्दीन प्रांत के बेघर हुए 8000 सुन्नी परिवारों को ग़ैर नक़दी मदद की है। इराक़ी न्यूज़ एजेंसी नून के अनुसार, आयतुल्लाह सीस्तानी के कार्यालय के कर्मचारी सय्यद शहीद मूसवी ने बताया कि सलाहुद्दीन प्रांत के शरक़ात इलाक़े के बेघर हुए इराक़ियों को, आयतुल्लाह सीस्तानी ने खाद्य पदार्थ, कपड़ों और बच्चों की ज़रूरत की चीज़ें पहुंचवायीं। शरक़ात इलाक़े के दाइश के क़ब्ज़े से आज़ाद होने के बाद, इस क्षेत्र के लोग अब अपने अपने घरों को लौट गए हैं। इस रिपोर्ट के अनुसार, जबूर क़ीबले के लोगों ने, जो हज्जाज, बू-तअमा और बू-अजील गांव में रहते हैं, आयतुल्लाह सीस्तानी की ओर से मदद मिलने पर उनके स्वास्थ्य की कामना की। शहीद मूसवी के अनुसार, आयतुल्लाह सीस्तानी ने इसी प्रकार तिकरीत शहर और अलम इलाक़े के बेघर होने वालों सुन्नी मुसलमानों को मदद पहुंचवाई थी।

इराक़ के वरिष्ठ धर्मगुरु ने 13 जून को इस देश की जनता से एकता की अपील करते हुए, दुश्मनों के फूट डालने के षड्यंत्र की ओर से सचेत किया। उन्होंने इराक़ी यूनिवर्सिटियों के छात्रों और शिक्षकों तथा चिकित्सकों के समूह से मुलाक़ात में कहा था, “ मूसिल, रेमादी तथा सलाहुद्दीन सहित अन्य शहरों के बेघर होने वाले अपने भाइयों की यह पूछे बिना मदद कीजिए कि वे शिया, सुन्नी, या किसी और मत के हैं। उन्हें खाना, पैसे और सिर छिपाने की जगह दीजिए।” आयतुल्लाह सीस्तानी ने कहा, “शिया, सुन्नी, ईसाई और अन्य लोग इराक़ी जनता का भाग हैं। वे सैकड़ों साल से एक दूसरे के साथ इस भूमि पर जीवन बिता रहे हैं।”

TOPPOPULARRECENT