Thursday , December 14 2017

हज इंतिज़ामात मुकम्मल: सऊदी अरब, अल्लाह के मेहमानों के इस्तिक़बाल केलिए तैय्यार

ज़ाइदाज़ 50 एयरलाईनस की ख़िदमात हासिल, जद्दा अर पोर्ट पर 20हज़ार बसों का इंतिज़ाम

ज़ाइदाज़ 50 एयरलाईनस की ख़िदमात हासिल, जद्दा अर पोर्ट पर 20हज़ार बसों का इंतिज़ाम
जुदा 24 सितंबर (एजैंसीज़) हुकूमत सऊदी अरब इस साल हज इंतिज़ामात मुकम्मल करलिए हैं। अक़्ता आलम से आने वाले लाखों आज़मीन-ए-हज्ज की हर मुम्किना सहूलत और मनासिक हज की तकमील के लिए मुनासिब बंद-ओ-बस्त करने में कोई कसर बाक़ी नहीं रखी गई। अल्लाह के मेहमानों के आराम का पूरा पूरा ख़्याल रखा गया। ताकि उन की इबादतों, तवाफ़, ज़िक्र-ओ-अज़कार और अरकान हज की तकमील में कोई मुश्किल और दिक़्क़त पेश ना आए। मताफ़ के इलाक़ा को वुसअत देने से यहां 1.30 लाख आज़मीन को इबादत की सहूलत होगी। हज परवाज़ों और आज़मीन को फ़िज़ाई सफ़र को आरामदेह बनाने के लिए ज़ाइदाज़ 50 एयरलाईनज़ की ख़िदमात हासिल की गई हैं। रैगूलर परवाज़ों से अलैहदा 34 तय्यारों को किराया पर हासिल किया गया है। अल्लाह के मेहमानों की आमद और रवानगी को पुरसुकून और आसान बनाने की तमाम कोशिशें की जा रही हैं। शाह अबदुलअज़ीज़ इंटरनैशनल अर पोर्ट जद्दा पर हुजूम को बढ़ने नहीं दिया जाएगा। डिप्टी डायरैक्टर जनरल सऊदी अरब एयरलाईनस कंपनी अबदुलअज़ीज़ बिन रहीम इल्ल हफी ने कहाकि आज़मीन-ए-हज्ज को लाने वाली एयरलाईनस के नुमाइंदों को पाबंद किया गया है कि वो सफ़री सहूलतों का ख़ास ख़्याल रखें। यक्म ज़ी क़ादा से आज़मीन-ए-हज्ज की आमद का सिलसिला शुरू होगा। 29 सितंबर को पहली फ़लाईट सऊदी अरब पहूंचेगी। 42 इंटरनैशनल मुक़ामात से लाखों आज़मीन को सऊदी अरब लाया जाएगा। इस के इलावा रैगूलर फ्लाइट्स भी चलाई जाएंगी। जुदा अर पोर्ट के हज टर्मिनल कामपलकस पर 8000 नौजवान मर्द अफ़राद का अमला आज़मीन की ख़िदमत अंजाम देगा। इन में से 4400 अफ़राद आज़मीन के सामान को बसों में मुंतक़िल करने के लिए मामूर होंगे। इस साल हिंदूस्तानी आज़मीन के सामान का वज़न कराने की सहूलत रखी गई। 50 एयरलाईनस के ज़रीया आने वाले आज़मीन की ख़िदमत के लिए 20,000 बसों का इंतिज़ाम किया गया है। शहज़ादा ख़ालिद इल्ल फ़ैसल की ज़ेर-ए-क़ियादत मुनाक़िदा इजलास में हज इंतिज़ामात का जायज़ा लिया गया और सरकारी-ओ-ख़ानगी एजैंसीयों की जानिब से फ़राहम की जाने वाली हज सरवेस को मोस्सर बनाने पर ज़ोर दिया गया। वज़ारत हज ने गुज़श्ता हफ़्ता ऐलान किया था कि वो जद्दा अर पोर्ट पर आज़मीन के हुजूम पर क़ाबू पाने के लिए सहि रुख़ी हिक्मत-ए-अमली इख़तियार की जाएगी। नायब वज़ीर उमोर उमरा ईसा इल्ल राइस ने कहाकि मक्का मुकर्रमा और मदीना तुय्यबा में नगर इनकार कंपनीयां आज़मीन की ख़िदमात अंजाम देंगी।
ख़ादिम हरमैन शरीफ़ैन शाह अबदुल्लाह का आज शूरा कौंसल से ख़िताब
रियाज़ 24 सितंबर (एजैंसीज़) ख़ादिम हरमैन शरीफ़ैन-ओ-सऊदी फ़रमांरवा शाह अबदुल्लाह बिन अबदुलअज़ीज़ कल शूरा कौंसल से ख़िताब करेंगे और सऊदी अरब के तमाम अवाम केलिए अहम पिया मात का ऐलान करेंगे। सऊदी अरब के 81 वें क़ौमी दिन के मौक़ा पर जिस का 1932-ए-में शाह अबदुलअज़ीज़ अलसावद ने क़ियाम अमल में लाया था, मुल्क भर में जश्न की तक़ारीब मनाई जा रही हैं। शाह अबदुल्लाह शूरा कौंसल के तीसरे साल का पांचवीं सैशन का इतवार को इफ़्तिताह करेंगे। सालाना ख़िताब के इलावा अपने ख़ुतबा में अहम और बड़ी पालिसीयों का ऐलान करेंगे। शूरा कौंसल के सदर डाक्टर अबदुल्लाह उल-शेख़ ने बताया कि शाह अबदुल्लाह का इक़तिदार शूरा और सऊदी अरब के अवाम के लिए अहम पयाम होगा। इन की तक़रीर शूरा कौंसल के रोल में अज़ीम एतिमाद का मज़हर साबित होगी

TOPPOPULARRECENT