Saturday , December 16 2017

हज कमेटी के 1406 आज़मीन का बगैर क़ुरआ अंदाज़ी इंतेख़ाब

हैदराबाद ( सियासत न्यूज़ ) आंधरा प्रदेश रियासती हज कमेटी को हज 2012 के लिए जुम्ला 16445 दरख़्वास्तें मौसूल हुई हैं । जिन में 1406 दरख़्वास्तें महफ़ूज़ ज़ुम्रे में शामिल हैं । 1406 आज़मीन हज के लिए कोई क़ुरआ अंदाज़ी नहीं होगी और उन के हज ए बैत उल अल्ला

हैदराबाद ( सियासत न्यूज़ ) आंधरा प्रदेश रियासती हज कमेटी को हज 2012 के लिए जुम्ला 16445 दरख़्वास्तें मौसूल हुई हैं । जिन में 1406 दरख़्वास्तें महफ़ूज़ ज़ुम्रे में शामिल हैं । 1406 आज़मीन हज के लिए कोई क़ुरआ अंदाज़ी नहीं होगी और उन के हज ए बैत उल अल्लाह का सफ़र हज कमेटी की जानिब से यक़ीनी है ।

इन 1406 महफ़ूज़ ज़ुमरे के आज़मीन हज में 678 आज़मीन 70 साल से ज़ाइद उम्र के अ ज़ुमरे के आज़मीन हैं जब्कि बी ज़ुमरे में गुज़शता 3 बरसों से मुसल्सल दरख़ास्तों के इदख़ाल के बावजूद क़ुरआ में नाम ना आने वाले 729 आज़मीन मौजूद हैं जोकि क़ुरआ अंदाज़ी के बगैर महफ़ूज़ ज़ुमरे में हज ए बैत उल अल्लाह के लिए रवाना होंगे ।

इन सब के इलावा आम ज़ुमरे में 15038 दरख़्वास्तें मौसूल हुई हैं जिन में कोटा के एत्बार से 10 मई को क़ुरआ अंदाज़ी के ज़रीया आज़मीन हज का इंतेख़ाब अमल में आएगा ।मर्कज़ी हज कमेटी ने इस मर्तबा भी ज़िला वारी असास पर क़ुरआ अंदाज़ी का फैसला किया है । हज कमेटी की जानिब से इस मर्तबा बगैर पासपोर्ट दरख़्वास्तें बिलकुल्लिया तौर पर वसूल नहीं की गई हैं जिस से क़ुरआ अंदाज़ी के बाद या रवानगी से क़ब्ल किसी भी तरह के मसाइल पैदा होने का ख़दशा नहीं है ।

आंधरा प्रदेश रियासती हज कमेटी ने दरख़ास्त फॉर्म्स के इदख़ाल की आख़िरी तारीख यानी 25 अप्रैल तक जारी किए गए पासपोर्ट की नूकुलात के साथ मुंसलिक दरख़ास्तों को ही क़बूल किया है । जबकि 26 अप्रैल को जारी पासपोर्टस को क़बूल ना करने के सबब अवाम को मायूसी का सामना करना पड़ा ।

TOPPOPULARRECENT