Saturday , June 23 2018

हज टर्मिनल के बाहर कच्ची सड़क से हुज्जाज किराम को दुशवारी

रियास्ती हज कमेटी के 692 हुज्जाज किराम पर मुश्तमिल दो क़ाफ़िले आज मदीना मुनव्वरा से हैदराबाद वापिस हुए। इस तरह हज कमेटी से रवाना होने वाले हुज्जाज के 11 क़ाफ़िले वतन वापिस हो चुके हैं मज़ीद 7 क़ाफ़िलों की वापसी बाक़ी है। स्पेशल ऑफीसर हज

रियास्ती हज कमेटी के 692 हुज्जाज किराम पर मुश्तमिल दो क़ाफ़िले आज मदीना मुनव्वरा से हैदराबाद वापिस हुए। इस तरह हज कमेटी से रवाना होने वाले हुज्जाज के 11 क़ाफ़िले वतन वापिस हो चुके हैं मज़ीद 7 क़ाफ़िलों की वापसी बाक़ी है। स्पेशल ऑफीसर हज कमेटी प्रोफ़ेसर एस ए शकूर ने शम्साबाद इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर हुज्जाज किराम का इस्तिक़बाल किया।

पहला क़ाफ़िला दिन में 11 बजे जबकि दूसरा रात 9 बजे हैदराबाद पहुंचा। सऊदी एयरलाइंस की 18 ख़ुसूसी परवाज़ों से हुज्जाज किराम मदीना मुनव्वरा से रास्त हैदराबाद पहुंच रहे हैं। कस़्टम़्स, इमीग्रेशन, जी एम आर और हज कमेटी के ओहदेदारों ने फ़्लाईट की आमद के बाद ज़रूरी उमूर की तकमील में हुज्जाज से तआवुन किया।

प्रोफ़ेसर एस ए शकूर ने जी एम आर के ओहदेदारों को हज टर्मिनल में पाई जाने वाले बाअज़ उमूर से वाक़िफ़ कराया और उन की जल्द यक्सूई की ख़ाहिश की ताकि हुज्जाज किराम को सामान की मुंतक़ली और बाहर निकलने में दुशवारी ना हो। उन्हों ने बताया कि सुबह की पहली फ़्लाईट में 342 हुज्जाज किराम वापिस हुए हैं जबकि 8 हुज्जाज बाद में वतन वापिस होंगे।

हज कमेटी ने मुंबई वापिस होने वाले हुज्जाज किराम की हैदराबाद वापसी के सिलसिले में आर टी सी की तीन बसों का इंतेज़ाम किया गया है जिस के लिए फ़ी बस 70 हज़ार रुपये अदा किए गए। अब तक जुमला 3738 हुज्जाज किराम वतन वापिस हो चुके हैं।

TOPPOPULARRECENT