Monday , December 18 2017

हज 2013, दरख़ास्तों की इजराई का आग़ाज़ , हज कमेटी

मर्कज़ी हज कमेटी ने हज 2013 के प्रोग्राम को क़तईयत दे दी है जिस के मुताबिक़ यक्म फरवरी 2013 से दरख़ास्त फार्मों की इजराई का अमल शुरू होगा और दरख़ास्त गुज़ारों को फी कस 300 रुपये नाक़ाबिल वापसी अदा करने होंगे । सदर नशीन हज कमेटी जनाब सय्यद

मर्कज़ी हज कमेटी ने हज 2013 के प्रोग्राम को क़तईयत दे दी है जिस के मुताबिक़ यक्म फरवरी 2013 से दरख़ास्त फार्मों की इजराई का अमल शुरू होगा और दरख़ास्त गुज़ारों को फी कस 300 रुपये नाक़ाबिल वापसी अदा करने होंगे । सदर नशीन हज कमेटी जनाब सय्यद खलील उद्दीन अहमद और ऐगज़ीक्यूटिव ऑफीसर जनाब अबदुल हमीद ने बताया कि हज 2013 के लिये दरख़ास्त फ़ार्म दाख़िल करने वालों के पास इंटरनेशनल पासपोर्ट रहना लाज़िमी है जो 31 मार्च 2014 तक कारकरद होनी चाहीए ।

उन्हों ने कहा कि जिन ख़ाहिशमंद आज़मीन के पास एसा पासपोर्ट मौजूद ना हो तो वो अपना पासपोर्ट तय्यार करवा लें और जिन की मुद्दत ख़त्म होरही हो वो अपने पासपोर्ट की तजदीद करवा लें । इस के इलावा महफ़ूज़ ज़ुमरों के आज़मीन के लिये दरख़ास्त फ़ार्म के साथ ही असल पासपोर्ट दाख़िल करना लाज़िमी क़रार दिया गया है ।
क़ुरआ अंदाज़ी और महफ़ूज़ ज़ुमरों में मुंतख़ब आज़मीन को पहली क़िस्त के तौर पर फी कस 76,000 रुपये जमा करवाने होंगे । इस के इलावा आज़मीन का किसी कौमियाए गए बैंक में अकाउंट मौजूद होना भी लाज़िमी है।

TOPPOPULARRECENT