Monday , December 18 2017

हड़ताली जूनीयर डाक्टर से बातचीत फिर नाकाम

हैदराबाद ०७ फरवरी ( सियासत न्यूज़) जूनीयर डॉक्टर्स एसोसी उष्ण क़ाइदीन और रियास्ती हुकूमत के माबैन हुई बातचीत आज भी नाकाम होगई । हुकूमत असटीफ़नड रक़ूमात में इज़ाफ़ा से साफ़ तौर पर इनकार करदिया और कहा कि हुकूमत किसी भी सूरत में जून

हैदराबाद ०७ फरवरी ( सियासत न्यूज़) जूनीयर डॉक्टर्स एसोसी उष्ण क़ाइदीन और रियास्ती हुकूमत के माबैन हुई बातचीत आज भी नाकाम होगई । हुकूमत असटीफ़नड रक़ूमात में इज़ाफ़ा से साफ़ तौर पर इनकार करदिया और कहा कि हुकूमत किसी भी सूरत में जूनीयर डॉक्टर्स की जानिब से अपने माहाना मुआवज़ा में इज़ाफ़ा के मुतालिबा को क़बूल करने का सवाल ही पैदा नहीं होगा।

हुकूमत और जूनीयर डॉक्टर्स एसोसी उष्ण क़ाइदीन के माबैन वज़ीर प्राइमरी-ओ-रुकन का बीनी ज़ेली कमेटी डाक्टर ऐस शैलजा नाथ के साथ बातचीत हुई लेकिन वज़ीर मौसूफ़ ने वाज़िह तौर पर कहा कि जूनीयर डॉक्टर्स हुकूमत के कोई मुलाज़मीन हरगिज़ नहीं हैं बल्कि वो सिर्फ और सिर्फ तलबा-ए-हैं ।

अगर उन्हें दरपेश कोईमसाइल हूँ तो वो बातचीत के ज़रीया यकसूई की जा सकेगी। बातचीत के इख़तताम परअख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए डाक्टर शैलजा नाथ ने पुरज़ोर अलफ़ाज़ में कह दिया कि हुकूमत जूनीयर डॉक्टर्स केलिए हरगिज़ असटीफ़नड में इज़ाफ़ा नहीं करेगी बल्कि हुकूमत अवाम को तिब्बी सहूलतों की फ़राहमी केलिए मुतबादिल इक़दामात करने से भीहरगिज़ गुरेज़ नहीं करेगी उन्हों ने कहा कि जूनीयर डॉक्टर्स सिर्फ और सिर्फ अपनेमाहाना मुआवज़ा में इज़ाफ़ा करने केलिए जो एहतिजाज जारी रखे हुए हैं वो मुनासिब नहीं है जबकि जूनीयर डॉक्टर्स देही इलाक़ों में भी ख़िदमात अंजाम देने केलिए तैय्यार नहीं हैं जबकि साबिक़ मैं जूनीयर डॉक्टर्स और हुकूमत के माबैन तए पाए मुआहिदात की मौजूदा जूनीयर डॉक्टर्स ख़िलाफ़वरज़ी कररहे हैं।
इसी दौरान जूनीयर डॉक्टर्स एसोसी उष्ण क़ाइदीन ने अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए फ़िलफ़ौर उन के देरीना हल तलब मसाइल की आजलाना यकसूई करने का रियास्ती हुकूमत से पुरज़ोर मुतालिबा किया बसूरत-ए-दीगरअपने एहतिजाज में मज़ीद शिद्दत पैदा करने का सख़्त अनतबादा दिया और कहा कि रियास्ती हुकूमत जूनीयर डॉक्टर्स के देरीना हल तलब मसाइल की यकसूई करने से अपनी अदम दिलचस्पी का इज़हार कर रही है ।

लिहाज़ा जूनीयर डॉक्टर्स किसी भी सूरत में अपनी जारी ग़ैर मुअय्यना मुद्दत की भूक हड़ताल को हरगिज़ ख़तन नहीं की जाएगी बल्कि रियासत गीर सतह पर अपनी इस जारी जद्द-ओ-जहद को मज़ीद वुसअत देते हुए दीगरतमाम अवामी तंज़ीमों से तआवुन हासिल किया जाएगा ।

इस तरह रियास्ती हुकूमत और जूनीयर डॉक्टर्स दोनों अपने सख़्त मौक़िफ़ पर अटल हैं

TOPPOPULARRECENT