Saturday , December 16 2017

हदीस शरीफ

उम्मुल मोमेनीन हज़रत आईशा सिद्दीक़ा रज़ी अल्लाहो तआला अनहा फ़रमाती हैं कि रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) जिस वक़्त मकान में तशरीफ़ लाते थे तो सब से पहले मिस्वाक किया करते थे । (मुस्लिम शरीफ़)

उम्मुल मोमेनीन हज़रत आईशा सिद्दीक़ा रज़ी अल्लाहो तआला अनहा फ़रमाती हैं कि रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) जिस वक़्त मकान में तशरीफ़ लाते थे तो सब से पहले मिस्वाक किया करते थे । (मुस्लिम शरीफ़)

TOPPOPULARRECENT