Friday , December 15 2017

हदीस शरीफ

हज़रत आईशा रज़ी अल्लाहो तआला अनहा से रिवायत है कि रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फ़रमाया जब अल्लाह तआला किसी अमीर या इमाम के साथ भलाई का इरादा करता है तो इस को अच्छा वज़ीर इनायत करता है । जब कभी ये अमीर भूलता है तो ये वज़ीर उस को याद दिलाता ह

हज़रत आईशा रज़ी अल्लाहो तआला अनहा से रिवायत है कि रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फ़रमाया जब अल्लाह तआला किसी अमीर या इमाम के साथ भलाई का इरादा करता है तो इस को अच्छा वज़ीर इनायत करता है । जब कभी ये अमीर भूलता है तो ये वज़ीर उस को याद दिलाता है और हर मौक़ा पर अमीर की इमदाद इआनत (मदद)करता है । (अबू दाउद)

TOPPOPULARRECENT