हदीस शरीफ

हदीस शरीफ

हजरत अब्दुल्लाह बिन करत रज़ी अल्लाहो तआला अनहो से रिवायत है के रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फ़रमाया , क़यामत में जिसकी नमाज़ दरुस्त है उसके तमाम आमाल दरुस्त हैं (तिबरानी)

हजरत अब्दुल्लाह बिन करत रज़ी अल्लाहो तआला अनहो से रिवायत है के रसूल-ए-पाक (स०अ०व०) ने फ़रमाया , क़यामत में जिसकी नमाज़ दरुस्त है उसके तमाम आमाल दरुस्त हैं (तिबरानी)

Top Stories