हदीस शरीफ

हदीस शरीफ
रसूल-ए-पाक (स०)ने फ़रमाया, लोगो याद रख्खो, मेरे बाद कोई नबी नहीं और तुम्हारे बाद कोई उम्मत नहीं, लिहाज़ा अपने रब की इबादत करना , पांच वक़्त की नमाज़ पढना ,रमजान के रोज़े रखना ख़ुशी खुसी अपने माल की ज़कात देना, अपने रब के घर का हज करना और

रसूल-ए-पाक (स०)ने फ़रमाया, लोगो याद रख्खो, मेरे बाद कोई नबी नहीं और तुम्हारे बाद कोई उम्मत नहीं, लिहाज़ा अपने रब की इबादत करना , पांच वक़्त की नमाज़ पढना ,रमजान के रोज़े रखना ख़ुशी खुसी अपने माल की ज़कात देना, अपने रब के घर का हज करना और अपने हुक्मरानों की इताअत करना, ऐसा करो गे तो अपने परवरदिगार की जन्नत में दाखिल होजाओ गे। (इब्न माजा )

Top Stories